पटना: स्टाइपेंड की राशि बढ़ोतरी की मांग को लेकर बुधवार की सुबह से बिहार के सभी मेडिकल कॉलेजों (Medical College) के जूनियर डॉक्टरों (Junior Doctors) के अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने के कारण राज्य में स्वास्थ्य व्यवस्था प्रभावित हुई है. पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (PMCH) जूनियर डॉक्टर एसोसिएशन (JDA) के प्रमुख डॉ. हरेंद्र कुमार ने बताया कि हम लोगों की प्रमुख मांग स्टाइपेंड की राशि बढ़ाने की है. Also Read - Driving License Latest Update: अब चुटकियों में बन जाएगा ड्राइविंग लाइसेंस, बदल गए हैं नियम, जानिए

डॉ. हरेंद्र कुमार ने बताया कि प्रत्येक तीन साल के बाद स्टाइपेंड की राशि बढ़ाने का सरकार ने 2017 में भरोसा दिया था, लेकिन उस समय के बाद अब तक स्टाइपेंड की राशि में बढ़ोतरी नहीं की गई है. उन्होंने कहा कि इसको लेकर कई बार स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से मुलाकात की गई लेकिन कोई लाभ नहीं मिला. आखिरकार हम लोगों को हड़ताल पर जाना पड़ा. Also Read - बिहार में डिलीवरी के दौरान नवजात का कटा सिर, मां और बच्चे दोनों की हुई मौत

जूनियर डॉक्टर्स ने दावा करते हुए कहा कि राज्य के पीएमसीएच, नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एनएमसीएच) सहित सभी मेडिकल कॉलेजों के जूनियर डॉक्टर और इंटर्न इस हड़ताल में शामिल हैं. Also Read - Bihar Latest News: मुंगेर जिले के एक स्‍कूल में कोरोना वायरस संक्रमण फैला, 22 छात्र और 3 शिक्षक Covid-19 से पॉजिटिव