पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद (Lalu Prasad Yadav) के जन्मदिन पर लालू के छोटे बेटे तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) रांची में अपने पिता से मिलने पहुंचे. इस दौरान रांची में जिस अस्पताल के पेइंग वार्ड में लालू प्रदास यादव अपना इलाज करा रहे हैं, उसे गुब्बारों से सजाया गया. तेजस्वी के सामने लालू ने केक काटा. इस दौरान लालू प्रसाद यादव का पूरा परिवार वीडियो कॉल पर मौजूद था. लालू प्रसाद यादव का ये 73वां जन्मदिन था. लालू से तेजस्वी गले मिले, जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. लालू से मिलने के बाद तेजस्वी ने रांची से ही बिहार के लिए पत्र लिखकर कहा कि लालू प्रसाद को सिद्धांतों से समझौता करने वाले नहीं हैं. Also Read - तेजस्वी यादव बोले- बिहार में शवों के ढेर पर चुनाव कराना सही नहीं, क्या नीतीश को राष्ट्रपति शासन का डर है?

तेजस्वी ने बिहार के लोगों को लिखे अपने पत्र में भावुक होते हुए लिखा, “आज पिता जी से उनके अवतरण दिवस पर मिलने रांची आया हूं. उनके जन्मदिवस पर अलग-अलग तरह के भाव मन में आ रहे हैं. मन थोड़ा व्यथित है कि वो हमसे दूर अकेले संघर्ष कर रहे हैं, और थोड़ा सशक्त भी क्योंकि उनका जन्मदिन मुझे और अधिक प्रेरणा देता है. उनकी तरह ही मुखरता से गरीब, गुरबों, शोषित, पीड़ित, उपेक्षित और वंचितों की लड़ाई बिना सिद्धांतों से समझौता किए लड़ूं.” Also Read - नीतीश कैबिनेट में कोरोना की एंट्री, मंत्री विनोद कुमार सिंह और उनकी पत्नी कोरोना संक्रमित

अपने पत्र में तेजस्वी ने आगे लिखा, “अपने पिता के जीवन की यात्रा पर जब भी नजर डालता हूं, तो ऐसा लगता है क्या अद्भुत और बिरला जज्बा लिए हैं. आदरणीय लालू जी, ऊंच-नीच के विरुद्ध लड़ाई लड़े, बिहार की तमाम सामाजिक विसंगतियों को खत्म किया. गरीब के हक का झंडा बुलंद किया और चाहे कितनी भी विषम परिस्थिति आई. कभी घुटने नहीं टेके. कभी अपने समझौता नहीं किया.” उन्होंने पत्र में आगे लिखा है कि विषम हालात अच्छे-अच्छों को तोड़ देते हैं, लेकिन ये अनुकरणीय है कि विषम हालात, अनगिनत षड़यंत्र और लगातार दुष्प्रचार भी लालू प्रसाद के हौसले को तोड़ नहीं पाया. Also Read - राजद को बड़ा झटका, 5 एमएलसी नीतीश कुमार की पार्टी JDU में शामिल

पत्र में आगे लिखा, “वे लड़ रहे हैं आज भी, बिना थके, बिना झुके और मुझे गर्व है कि बिहार के लोगों के हक के लिए उनकी इस लड़ाई में मैं भी भागी बना हूं, इसलिए आज उनके जन्मदिन पर यह प्रण लेता हूं कि बिहार के युवाओं और गरीबों को हर हालत में न्याय दिला कर रहूंगा.” उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार ने 15 साल राज करते-करते बहुत ठीकरा फोड़ लिया दूसरों पर अब और नहीं होने दूंगा. भुखमरी, अपराध, अव्यवस्था, अन्याय से अब जान नहीं खोने दूंगा. तेजस्वी ने लोगों को विश्वास दिलाते हुए पत्र में आगे लिखा, “लालू जी की प्रेरणा से जो कदम बिहार की सेवा के लिए चल पड़े हैं, वो कदम रुकेंगे नहीं, कभी थकेंगे नहीं.”