नई दिल्ली। सीबीआई रेड पर आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर तीखा हमला बोला है. लालू ने कहा कि मैंने कोई गलत काम नहीं किया. हमने सबकुछ नियमों के तहत किया. टेंडर की प्रक्रिया में कोई गड़बड़ी नहीं की गई थी. उन्होंने कहा कि ये सबकुछ एनडीए के कार्यकाल में हुआ है, इसमें मुझे फंसाने की कोशिश की जा रही है.Also Read - बिहार में मृतक ने जीता पंचायत चुनाव, प्रमाण पत्र देने पहुंचे बीडीओ रह गए दंग; गांव वालों ने...

Also Read - Lalu Prasad Yadav Admitted to AIIMS: लालू यादव एम्स के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती, डॉक्टर्स ने बताया हाल

लालू ने कहा कि ये मेरे खिलाफ बीजेपी-आरएसएस की साजिश है. बीजेपी के खिलाफ बोलने पर फंसाया गया है. देश की हालत बदतर है. उन्होंने कहा कि हम डरने वाले नहीं हैं. हम मिट्टी में मिल जाएंगे लेकिन बीजेपी और नरेंद्र मोदी सरकार को हटाकर दम लेंगे. Also Read - Indian Railways Update: प्रयागराज और आगरा रेलवे स्टेशनों पर जल्द मिलेंगी कई विश्व स्तरीय सुविधाएं, जानें अपडेट

लालू प्रसाद ने कहा कि उनके और परिवार के बाकी सदस्यों को निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि बीजेपी उन्हें अपने सामने झुकाना चाहती हैं. उन्होंने कहा कि हम झुकने वालों में से नहीं है और बीजेपी को सबक सीखाकर रहेंगे. लालू पर शिकंजाः 12 ठिकानों पर रेड के बाद बिहार में अलर्ट, CBI ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

बता दें कि सीबीआई ने शुक्रवार को लालू प्रसाद के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की. सीबीआई ने रेलवे होटल टेंडर केस में लालू के 12 ठिकानों पर छापेमारी की है जिनमें दिल्ली, पटना, रांची, भुवनेश्वर और गुड़गांव शामिल हैं. लालू के छोटे बेटे और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के आवास पर भी छापेमारी की गई है. यह छापेमारी 2006 में बतौर रेल मंत्री रहते हुए रांची और पुरी के होटलों के रखरखाव का ठेका (टेंडर) देने में कथित अनियमितता के नए मामले को लेकर की गई. पटना Breaking News LIVE: जमीन घोटाले के मामले में लालू ने कहा- ये बीजेपी और आरएसएस साजिश है

सीबीआई के एडिशनल डायरेक्टर राकेश अस्थाना ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि लालू प्रसाद समेत आठ लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी और साजिश का केस है. पुरी और रांची के होटलों के आवंटन में गड़बड़ी है. उन्होंने बताया कि छापेमारी की कार्रवाई सुबह 7.30 बजे शुरू हुई जो अभी भी जारी है. अस्थाना ने कहा कि मामले में सीबीआई ने एफआईआर दर्ज किया है.

सीबीआई के तरफ से दर्ज किए गए केस में लालू प्रसाद यादव, राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, सरला गुप्ता, विजय कोचर (होटल चाणक्य का डायरेक्टर), विनय कोचर (होटल चाणक्य का डायरेक्टर), पीके गोयल (आईआरसीटीसी के पूर्व एमडी), मैसर्स लारा प्रोजेक्ट एलएलपी (दिल्ली की कंपनी) और अज्ञात लोगों के खिलाफ नाम शामिल किया गया है. इन सब के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 (धोखाधड़ी), 120बी (आपराधिक साजिश), 13, 13 (1) (डी) पीसी एक्ट का मामला दर्ज किया गया है.