पटना: कांग्रेस विधायक संतोष मिश्रा के भतीजे को बिहार के रोहतास जिले में छह अज्ञात बाइक सवार हमलावरों ने गोलियों से भून दिया. मृतक संजीव मिश्रा (35) रोहतास जिले के करगहर निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक संतोष मिश्रा का भतीजा था. संजीव को शनिवार शाम को बंदूकधारियों ने चार गोली मारी और पास के मोहनिया में अस्पताल ले जाते समय उन्होंने रास्ते में दम तोड़ दिया. Also Read - कोरोना के बीच CBSE कराएगा एग्जाम, प्रियंका गांधी ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री से कहा- ये चौंकाने वाला फैसला, परीक्षाएं रद्द हों

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि छह अज्ञात हमलावर तीन बाइकों पर सवार होकर परसाथुआ गांव में स्थित संजीव मिश्रा के घर के पास पहुंचे और अंधाधुंध गोलीबारी की. अपराध करने के बाद हमलावर मौके से फरार हो गए. संजीव मिश्रा पंचायत चुनाव लड़ने वाले थे और वह इसकी तैयारी कर रहे थे. वह सबसे सक्रिय व्यक्तियों में से एक थे, जिन्होंने हाल ही में अपने चाचा संतोष मिश्रा के लिए प्रचार किया और जमीनी स्तर पर काफी लोकप्रिय थे. संजीव मिश्रा के परिवार वालों को संदेह है कि यह आगामी पंचायत चुनाव लड़ने से रोकने के लिए एक राजनीतिक हत्या हो सकती है. Also Read - Assam Assembly Election 2021: चुनाव के नतीजों से पहले ही कांग्रेस और AIUDF ने अपने उम्मीदवारों को भेजा राजस्थान

संजीव मिश्रा के भाई मनदीप मिश्रा ने कहा, “उनकी किसी से व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं थी. जांच से हत्या के पीछे की असल वजह का पता चलेगा.” करगहर रेंज के पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) विनोद कुमार रावत ने कहा, “हम सभी कोणों से मामले की जांच कर रहे हैं और चश्मदीदों के बयान दर्ज कर रहे हैं. हमें आरोपियों के बारे में कुछ सुराग मिले हैं और उन्हें पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है.” Also Read - बंगाल को पहले कांग्रेस ने रौंदा, कम्युनिस्टों ने लूटा, अब TMC की गुंडागर्दी से बदहाल है: रैली में बोले CM योगी