Bihar Assembly Election 2020: पहली बार पिता, रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) की गैरमौजूदगी में लोजपा (LJP) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने पार्टी का घोषणापत्र जारी किया. इस दौरान वे थोड़े से भावुक भी दिखे. घोषणापत्र जारी करते हुए फिर से चिराग पासवान ने बिहार के मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जोरदार हमला बोला है. उन्होंने कहा कि अगर नीतीश कुमार चुनाव में जीत जाते हैं तो बिहार हार जाएगा. Also Read - ब्वॉयफ्रेंड की शादी से बौखलाई प्रेमिका ने दुल्हन के काटे बाल, आंखों में डाली feviquick और फिर...

हमें बस 20 दिन दीजिए, बदलाव लाकर दिखाएंगे Also Read - बिहार विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद अब इस तैयारी में विपक्षी महागठबंधन...

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को देखकर मुझे आश्चर्य होता है कि आप किस तरह से जातीयता को बढ़ावा देते हैं.जो व्यक्ति खुद सांप्रदायिकता को बढ़ावा देता हो, उसके नेतृत्व में बिहार के विकास की कल्पना करना उचित नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने अपील करते हुए कहा कि हमें बस 20 दिन दीजिए, बदलाव लाकर दिखाएंगे. Also Read - तेजस्वी ने नीतीश पर की व्यक्तिगत टिप्पणी, सीएम बोले- राजनीति में आगे बढ़ना है तो ठीक से व्यवहार करना सीख लो

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर लगाया आरोप

चिराग ने कहा कि नीतीश कुमार कहते हैं कि बिहार समुद्र किनारे नहीं है इसलिए यहां बड़े उद्योग नहीं लग रहे हैं, तो मैं उनसे पूछता हूं कि पंजाब और हरियाणा कौन से समुद्र किनारे हैं? वहां उद्योग कैसे लगे. सच तो यह है कि नीतीश कुमार के राज में बिहार में पहले से चल रहे उद्योग भी बंद हुए हैं.

चिराग ने कहा कि आज बिहार की सबसे बड़ी चिंता पलायन है. उद्योग होता तो हमारे यहां के युवाओं को काम की तलाश में दूसरे राज्यों में नहीं जाना पड़ता. हम शिक्षा और रोजगार की बात करते हैं. पिछले तीन दशक से बिहार में विकास की सिर्फ चर्चा की जा रही है. वोट जाति और धर्म की बात कह ले लिया जाता है. नीतीश कुमार जातिवाद को बढ़ावा देते हैं और उनके नेतृत्व में बिहार का विकास मुश्किल है।

चिराग ने विजन डॉक्यूमेंट भी किया  जारी

चिराग पासवान ने विधानसभा चुनाव को लेकर अपनी पार्टी का विजन डॉक्यूमेंट भी जारी किया . पटना में आयोजित प्रेस वार्ता में चिराग ने खुले मंच से कहा कि चुनाव में इतनी बड़ी प्रेस वार्ता हो रही है, लेकिन पिता साथ नहीं है मुझे इसके लिए भी हिम्मत पिता से ही मिलती थी.

चिराग पासवान ने चुनौती भरे लहजे में कहा कि मैं शेर का बच्चा हूं और जंगल को अकेले चीरने निकला हूं. उन्होंने कहा कि गीदड़ का बच्चा होने पर आदमी मारा जाता है. विजन डॉक्यूमेंट की जानकारी देते हुए रामविलास पासवान के पुत्र ने कहा कि इस विजन में चार लाख से ज्यादा बिहारियों के विचार को रखा गया है और मेरे पिता रामविलास पासवान का पूरा अनुभव इसमें शामिल है.

चिराग ने कहा कि बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट में सभी की समस्याएं शामिल है, लेकिन कोई ऐसी समस्या नहीं है जिसका हल इसमें शामिल नहीं हो.नीतीश कुमार पर हमला बोलेते हुए चिराग ने कहा कि दलित की हत्या पर नौकरी देने की बात पर तंज कसते हुए पूछा कि जब किसी की हत्या हो ही जाएगी फिर नौकरी देकर क्या करेंगे.