नई दिल्ली. बिहार में महागठबंधन के घटक दलों के बीच सीट बंटवारे पर 25 फरवरी तक अंतिम फैसला हो जाएगा. पार्टी नेताओं ने बुधवार को यह जानकारी दी. राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से राष्ट्रीय राजधानी में मुलाकात की थी. इसके एक दिन बाद यह जानकारी सामने आई. सूत्रों के अनुसार, राजद बिहार में 22 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहता है वहीं कांग्रेस 10 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है.

यादव और गांधी की बैठक की पुष्टि करते हुए कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, “बिहार में सीट बंटवारे पर बातचीत अंतिम चरण में है. हमें उम्मीद है कि 25 फरवरी तक घोषणा हो जाएगी.” उन्होंने यह भी कहा कि अभी तक बातचीत सकारात्मक रही है. यादव बुधवार शाम कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अखिलेश प्रताप सिंह से दिल्ली स्थित उनके आवास पर मिलने वाले थे लेकिन अब यह बैठक शुक्रवार को पटना में होगी. कांग्रेस ने हाल ही में दरभंगा से भारतीय जनता पार्टी के सांसद कीर्ति आजाद को पार्टी में शामिल कर अपना मनोबल बढ़ाया है.

कई नेताओं की एक बैठक राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के साथ भी होनी है जो इस समय रांची स्थित राजेंद्र प्रसाद इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) में अपना इलाज करा रहे हैं. बिहार में महागठबंधन में कांग्रेस, राजद, उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा), बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी का हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा-सेकुलर (हम-एस) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) हैं. कांग्रेस के सूत्रों के अनुसार, बिहार में राजद को सबसे ज्यादा सीटें मिलेंगीं इसके बाद कांग्रेस को मिलेंगी. शेष सीटों को हम-एस, रालोसपा और वीआईपी में बांटा जाएगा.

(इनपुट – एजेंसी)