Bihar Assembly Election 2020: बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के मामले में दिल्ली एम्स की रिपोर्ट पर महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने भाजपा पर तंज कसा है और आरोप भी लगाया है. उन्होंने कहा है कि अब पूरा देश देख सकता है कि सुशांत केस में भाजपा ने बिहार चुनाव की वजह से इस मुद्दे का राजनीतिकरण किया, अब इसकी सच्चाई सामने आ गई है. उन्होंने कहा कि सुशांत मामले के नाम पर महाराष्ट्र सरकार को बदनाम करने की साजिश रची गई है. Also Read - रैली करने गए नीतीश कुमार के हेलीकॉप्टर पर फेंकी गई चप्पल, नारेबाजी भी की, हिरासत में लिए गए

देशमुख ने राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस को लेकर कहा, मैं देवेंद्र फडणवीस से पूछना चाहता हूं कि क्या वह गुप्तेश्वर पांडे (बिहार के पूर्व डीजीपी) के लिए प्रचार करेंगे, उस व्यक्ति के लिए चुनाव प्रचार करें, जिसने महाराष्ट्र को बदनाम किया है. Also Read - बिहार चुनाव: पहले चरण का चुनाव प्रचार थमा, बुधवार को 71 सीटों पर मतदान

गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा, एम्स की रिपोर्ट के मुताबिक सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या की थी, उनकी हत्या नहीं की गई थी. अब तो इससे यह साबित होता है कि मुंबई पुलिस द्वारा की गई जांच बिल्कुल सही थी. उन्होंने कहा कि सुशांत केस में अब सच्चाई सबके सामने आ चुकी है. Also Read - बिहार: तेजस्वी ने अपने भाई तेजप्रताप के लिए मांगे वोट, बोले- गरीब जनता और तानाशाह सरकार के बीच है लड़ाई

देशमुख ने कहा, सुशांत के नाम पर महाराष्ट्र को बदनाम करने की साजिश रची गई थी. इसके अलावा मुंबई पुलिस को भी बदनाम करने के लिए निशाना बनाया गया था. मुंबई पुलिस की जांच रिपोर्ट को लेकर झूठ फैलाया गया और सब जानते हैं कि इससे पीछे कौन था.

महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने कहा, सुशांत मामले पर झूठ फैलाने के पीछे भाजपा है. भाजपा ने इस मुद्दे पर ओछी राजनीति की है. उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सुशांत मामले का राजनीतिकरण किया गया और इस मुद्दे को भाजपा द्वारा केवल इसलिए उछाला गया ताकि उन्हें चुनाव में फायदा मिल सके.