बिहारशरीफ. बिहार में पिछले एक महीने के दौरान हुईं भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मार डालने यानी मॉब-लिंचिंग (Mob-lynching) की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. साल 2019 की शुरुआत के साथ ही बिहारशरीफ और अररिया में मॉब-लिंचिंग की घटनाओं के सामने आने के करीब 15 दिनों के बाद बुधवार को भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मारे जाने का एक और मामला सामने आया है. ताज्जुब की बात है कि इस बार की घटना भी सीएम के गृह जिले यानी नालंदा (बिहारशरीफ) की ही है. नालंदा जिले के सुदूरवर्ती इस्लामपुर थाना अंतर्गत बरडीह गांव में बुधवार की रात चोरी के आरोप में तीन लोगों की ग्रामीणों ने बुरी तरह पिटाई कर दी जिससे उनमें से दो लोगों की मौत हो गई जबकि एक अन्य की हालत नाजुक बनी हुई है. हालांकि बुधवार की घटना में बुरी तरह से पीटे जाने के बाद जिन दो लोगों की मौत हुई है, उनका आपराधिक इतिहास रहा है.

सीएम नीतीश के गृह जिले में राजद नेता की हत्या, गुस्साई भीड़ ने 2 लोगों को मार डाला

हिलसा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मोहम्मद मुत्तफिक अहमद ने गुरुवार को बताया कि मृतकों में इस्लामपुर थाना अंतर्गत माली टोला गांव निवासी अजय कुमार (32) और लोहारटोली निवासी मोहम्मद सद्दाम (28) हैं. उन्होंने बताया कि अजय की वारदातस्थल पर ही मौत हो गई थी, जबकि सद्दाम की पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हुई. अहमद ने बताया कि अजय का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है और उस पर 7 अन्य आपराधिक मामले पूर्व से ही दर्ज हैं, जबकि सद्दाम पटना के बख्तियारपुर में एक आपराधिक मामले में पूर्व में जेल जा चुका है. उन्होंने बताया कि बुरी तरह पिटाई से गंभीर रूप से घायल बुढ़ा नगर निवासी संतु कुमार का इलाज पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल में जारी है.

बिहार में फिर ‘मॉब-लिचिंग’, अररिया में भीड़ ने 55 साल के व्यक्ति को पीट-पीटकर मार डाला

इस्लामपुर थाना अंतर्गत बरडीह गांव निवासी मृत्युंजय कुमार और मिथिलेश प्रसाद के घरों का ताला तोड़कर ये तीनों चोरी की नियत से कल रात घरों में घुस गए थे. आहट मिलने पर आसपास के ग्रामीण जाग गए और तीनों को पकड़कर उनकी लाठी एव डंडे से पीटकर तथा ईंट एवं पत्थरों से हमला कर उन्हें बुरी तरह घायल कर दिया. अहमद ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है. आपको बता दें कि इससे पहले इसी महीने 2 और 3 जनवरी को बिहारशरीफ और अररिया जिले में भीड़ द्वारा पीटे जाने से 3 लोगों की मौत हो गई थी. 2 जनवरी को जहां नालंदा के दीपनगर थाना क्षेत्र में राजद नेता की हत्या से गुस्साए लोगों ने जमकर उत्पात मचाया और एक किशोर समेत दो लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. वहीं, अररिया जिले में गाय चोरी के आरोप में एक प्रौढ़ व्यक्ति को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला था. इन घटनाओं को लेकर राजद नेता और प्रदेश के पूर्व डिप्टी सीएम ने सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा था कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था को देखते हुए लोग अब बिहार को ‘लिंच-विहार’ कहने लगे हैं.

(इनपुट – एजेंसी)