मोतिहारी: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बिहार के पूर्वी एवं पश्चिमी चंपारण जिला के अपने एक दिवसीय दौरे के दौरान राष्ट्रीय राजमार्ग एवं जल परिवहन से जुड़ी करीब 3400 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का सोमवार को शिलान्यास किया. एक आधिकारिक विज्ञप्ति में बताया गया कि सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, पोत परिवहन, जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री गडकरी ने पश्चिमी चंपारण के बगहा में 366.62 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया जिसमें राष्ट्रीय राजमार्ग 28 के लिए दो आरओबी मार्ग शामिल हैं. गडकरी ने बगहा के वाल्मीकि नगर से हाजीपुर में गंगा के साथ गंडक नदी के संगम तक के लिए 300 किलोमीटर के राष्ट्रीय जलमार्ग की नींव भी रखी. Also Read - LJP में जंग के बीच चिराग उतरेंगे सड़क पर, पिता की जयंती पर हाजीपुर से पूरे बिहार में निकालेंगे 'आशीर्वाद यात्रा'

Also Read - UP के कई जिलों में बाढ़ के खतरे का हाई अलर्ट, प्रयागराज, पटना में गंगा का जलस्‍तर बढ़ा

मोतिहारी में गडकरी ने 2,540 करोड़ की लागत वाली तीन परियोजनाओं का उद्घान किया. मोतिहारी में उन्होंने जिन तीन परियोजनाओं का शिलान्यास किया उनमें 1,285 करोड़ रुपये की लागत वाले 83.24 किलोमीटर लंबे राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-227 ए का चौड़ीकरण कार्य, 1,254 लागत वाले 81.11 किलोमीटर लंबे एसएच74 का चौड़ीकरण कार्य तथा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या- 28 एवं 28 ए पर 93.91 करोड़ की लागत से तीन गैन्ट्री गेट्स का पुनर्निर्माण कार्य शामिल है. गडकरी ने मोतिहारी में आयोजित दो दिवसीय कृषि कुम्भ के समापन समारोह को संबोधित किया कि सड़क परियोजनाओं में से एक “राम जानकी मार्ग” का एक हिस्सा पूर्वी चंपारण से होकर गुजरता है जिसके परिणामस्वरूप जिले में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और आर्थिक लाभ होगा। यह मार्ग अयोध्या को नेपाल के जनकपुर से जोड़ता है. Also Read - पश्चिम बंगाल में फिर से शुरू हो सकती है वोटों की गिनती, BJP जाएगी कोर्ट! TMC है वजह

बंगाल: BJP ने परीक्षाओं के बीच लाउडस्पीकर्स पर लगी रोक हटाने की मांग, कोर्ट ने विचार भी नहीं किया

गडकरी ने केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार के किसान के हित में लिए गए निर्णयों का जिक्र करते हुए बताया कि सरकार ने गंगा को साफ करने की अपनी प्रतिबद्धता को ध्यान में रखते हुए, 26,000 करोड़ रुपये की योजनाएं शुरू की हैं और इस वर्ष मार्च तक नदी के अविरल प्रवाह को सुनिश्चित किया जाएगा. इस अवसर पर केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधा मोहन सिंह ने पिछले 55 महीनों में पूर्वी चंपारण जिले में हुए विकास कार्यों के बारे में जानकरी दी. बाद में, केंद्रीय मंत्रियों ने पूर्वी चंपारण के रक्सौल में 505 करोड़ रुपये की परियोजनाएं शुरू की जिनमें 40 किमी लंबे एनएच 28 बी और 69 किमी लंबे एनएच 28 ए का चौड़ीकरण कार्य शामिल है.