पटना: सुशांत सिंह राजपूत मामले में एक के बाद एक नए खुलासे से एक तरफ लोग चौंक रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ महाराष्ट्र सरकार के नए रवैये ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं. महाराष्ट्र में सुशांत मामले की जांच करने पहुंचे IPS अधिकारी विनय तिवारी को बीएमसी ने जबरदस्ती क्वारंटीन कर दिया है. महाराष्ट्र प्रशासन द्वारा ऐसा किए जाने के बाद बिहार सरकार ने अपनी नाराजगी व्यक्त की है. Also Read - सुशांत सिंह राजपूत मौत केस से ध्यान भटकने पर शेखर सुमन बोले- 'ड्रगीज को मरने दो, हमें ये बताओ.....'

बिहार पुलिस के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी के मुंबई पहुंचने के साथ ही जबरन क्वारंटीन किए जाने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी नाराज हैं. नीतीश ने कहा है कि हमारे अधिकारी के साथ मुम्बई में जो हुआ, वह सही नहीं है. पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि मुंबई गए आईपीएस अधिकारी के साथ जो हुआ वह सही नहीं हुआ. वो अपनी ड्यूटी कर रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि हमारे पुलिस महानिदेशक इस मामले में महाराष्ट्र के अधिकारियों से बात करेंगे. Also Read - NCB के सामने पेश होने को शूटिंग छोड़ गोवा से मुंबई पहुँचीं दीपिका पादुकोण, लेकिन...

इस बीच, हालांकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस मसले पर सीबीआई जांच के संबंध में कोई बात नहीं की. उल्लेखनीय है कि बिहार पुलिस की चार सदस्यीय पुलिस टीम मुंबई में सुशांता आत्महत्या मामले की जांच कर रही है. इसी सलिसिले में आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को रविवार को मुम्बई भेजा गया था लेकिन रात करीब 11 बजे बीएमसी ने तिवारी को क्वारंटाइन कर दिया.

(इनपुट-भाषा)