पटना: बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (युनाइटेड) के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने यहां शनिवार को कहा कि बिहार की जनता को सही और गलत की पहचान है. विपक्षी दल के पास ना कोई मुद्दा है, ना ही कोई कार्यक्रम है. उन्होंने दावा किया कि 2020 के विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) 200 से ज्यादा सीटों पर जीत दर्ज करेगा. बिहार प्रदेश जद (यू) के क्षेत्रीय संगठन प्रभारियों, जिलाध्यक्षों एवं प्रखंड अध्यक्षों की महत्वपूर्ण बैठक में मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं को उत्साहित करते हुए कहा कि कुछ लोगों का काम केवल लोगों में भ्रम फैलाना होता है. वैसे लोगों पर ध्यान देने की कोई जरूरत नहीं. Also Read - Covid-19: प्रशांत किशोर ने शेयर किया लॉकअप में बंद मजदूरों का वीडियो, मांगा नीतीश का इस्तीफा

उन्होंने कहा, “जिन विचारों को लेकर पार्टी आज तक चलती रही है, उन विचारों से समझौता किसी कीमत पर नहीं होगा. बिहार में धर्म, संप्रदाय, जाति या लिंग के आधार पर किसी से भेदभाव का प्रश्न ही नहीं उठता.” बैठक में जद (यू) के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, महासचिव आऱ सी़ पी सिंह, लोकसभा में दल के नेता राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव समेत पार्टी के अन्य नेता शामिल हुए. बैठक में उपस्थित सभी प्रखंड अध्यक्षों सहित आए तमाम नेताओं ने भी अपनी बातें रखी. Also Read - बिहार के बाहर फंसे लोगों को दी जाएगी मदद, 100 करोड़ रुपये जारी: नीतीश कुमार

इससे पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने शनिवार को यहां बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाईटेड (जदयू) अध्यक्ष नीतीश कुमार से भेंट की. माना जा रहा है कि दोनों ने इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव एवं अन्य विषयों पर चर्चा की. नड्डा ने यहां मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास पर मुलाकात की. उनके साथ भाजपा महासचिव भूपेंद्र यादव, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल भी थे. Also Read - Coronavirus के मद्देनजर BJP एक महीने तक कोई प्रदर्शन नहीं करेगी: अध्‍यक्ष जेपी नड्डा

जदयू बिहार में सत्तारूढ़ राजग का घटक है. नवंबर में होने जा रहे विधानसभा चुनाव भाजपा नीत इस गठबंधन के लिए अहम है . भाजपा को दिल्ली और झारखंड चुनाव में शिकस्त जबकि महाराष्ट्र में अप्रत्याशित स्थिति का सामना करना पड़ा. नड्डा ने कुमार के साथ अपनी बैठक की तस्वीर अपने ट्विटर हैंडल पर साझा की और बिहार का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित करने को लेकर राज्य में राजग के नेतृत्वकर्ता मुख्यमंत्री की सराहना की. दोनों के बीच करीब आंधे घंटे तक बैठक चली.

बिहार में राजग जिसमें भाजपा, जदयू और लोजपा शामिल हैं, ने पिछले लोकसभा चुनाव में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया था और 40 में 39 सीटें हासिल की थीं. उससे पहले दिन में नड्डा ने पार्टी की 14 सदस्यीय कोर समिति को संबोधित किया था जिसमें गिरिराज सिंह, नित्यानंद राय और अश्वनि कुमार चौबे जैसे केंद्रीय मंत्री शामिल हैं.

इस बीच राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने भाजपा और जदयू की बैठक को दो लंगड़े व्यक्तियों की आपस में मिलकर अकुशलता से पार पाने की कोशिश करार दिया. इस पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष निखिल आनंद ने कहा कि उनके ओछे बयान तेजस्वी यादव, तेजप्रताप यादव को खुश करने की हताश कोशिश है.

(इनपुट ऐजेंसी)