पटनाः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अगले साल राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में राजग की बड़ी जीत का दावा करते हुए शुक्रवार को कहा कि जो लोग जदयू और उसकी गठबंधन सहयोगी भाजपा के बीच दरार पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं, उनका बुरा हाल होने वाला है. जदयू की एक राज्य परिषद बैठक को संबोधित कर रहे नीतीश ने अपने विरोधियों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जिन लोगों में ‘राजनीतिक सूझबूझ की कमी’ है वह उन पर निजी हमले करके प्रचार पाने की कोशिश करते हैं.

एनआरसी को देश के चश्मे से देखें, वोट के चश्मे से नहीं: गिरिराज सिंह

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘ उनमें से कुछ लोगों ने बेशर्मी से यह स्वीकार किया है कि उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि यह उनकी यूएसपी (खासियत) है.’’ कुमार ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वह उनके खिलाफ की जाने वाली ‘निंदात्मक’ टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देने से बचें.

आंखों में आंसू लिए घर से बाहर निकलीं लालू यादव की बहु ऐश्वर्या

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘ मैं अपने पार्टी प्रवक्ता को सलाह दूंगा कि वह इसमें न पड़ें.’’ कुमार ने कहा , ‘‘ 2010 का विधानसभा चुनाव याद करने की कोशिश करें. आशंका जताई गई थी कि हमें बहुमत नहीं मिलेगा लेकिन हम 243 सीटों में से 206 सीट पर जीत गए थे. आश्वस्त रहें कि हमें अगले साल 200 से ज्यादा सीटें मिलेंगी.’’

बिहार में NDA के कप्तान नीतीश, 2020 के विधानसभा चुनाव में भी कप्तान बने रहेंगे: सुशील

उन्होंने कहा कि जदयू और भाजपा के बीच सबकुछ ठीक है. उन्होंने कहा, ‘‘ ऐसे बहुत लोग हैं जो यह सोचते हैं कि हमारे गठबंधन में घचपच (कुछ गड़बड़ी) है. ऐसा नहीं हैं. और जो गड़बड़ी करने की कोशिश कर रहे हैं उनका बुरा हाल होने वाला है.’’