नई दिल्ली. अगर आप ग्रेजुएट या पोस्टग्रेजुएट हैं, एसटीईटी पास हैं या बीटेक या एमटेक हैं और अगर आपकी उम्र 21 साल से लेकर 65 साल तक है, तो यह खबर सिर्फ आपके लिए है. आप बिहार के उच्च माध्यमिक यानी प्लस-टू स्कूलों में गेस्ट टीचर बन सकते हैं. बिहार में गर्मी की छुट्टियों के बाद 4 हजार से ज्यादा गेस्ट टीचर के पदों के लिए वैकेंसी निकलने वाली है. इसके तहत अंग्रेजी, गणित, केमिस्ट्री, बॉटनी और जूलॉजी विषयों के लिए कुल 4257 खाली पदों पर गेस्ट टीचर्स की बहाली की जाएगी. राज्य के शिक्षा विभाग ने स्कूलों में अतिथि शिक्षकों की सेवा के लिए जिलों को गाइडलाइन जारी कर दी है. सरकार अतिथि शिक्षकों को जिलावार और विषयवार पैनल बनाकर बहाल करेगी. शिक्षा विभाग ने गेस्ट टीचर्स के आवेदन, सेलेक्शन और मेरिट लिस्ट तय करने से लेकर उन्हें रखने की सभी प्रक्रियाओं से संबंधित आदेश भी जारी कर दिया है.Also Read - बिहार में गेस्ट टीचर की भर्तीः 4.71 लाख से ज्यादा आवेदन, इंजीनियर और PhD डिग्रीधारी भी कतार में

गेस्ट टीचर बनने के लिए यह होगी शर्त
बिहार सरकार के शिक्षा विभाग के मुताबिक गेस्ट टीचर की सेवा जिस वर्ष से ली जाएगी, उस वर्ष की पहली जनवरी को आवेदक की आयु न्यूनतम 21 साल और अधिकतम 65 साल होनी चाहिए. हालांकि स्कूलों में गेस्ट टीचर वे भी बन सकेंगे जो बी.टेक या एम.टेक पास हैं, लेकिन सरकार उन अभ्यर्थियों को पहली वरीयता देगी जो एसटीईटी पास हैं. मेरिट लिस्ट यानी मेधा सूची के लिए पैनल बनेगा, जिसमें सबसे ऊपर एसटीईटी (पेपर-2) पास पोस्टग्रेजुएट ट्रेंड उम्मीदवार को प्राथमिकता दी जाएगी. इसके बाद ग्रेजुएट ट्रेंड और फिर पोस्टग्रेजुएट उम्मीदवारों की भर्ती होगी. इसके बाद बी.टेक या एम.टेक अभ्यर्थियों को वरीयता दी जाएगी. माध्यमिक निदेशक ने मीडिया को दी गई जानकारी में बताया कि स्कूलों में खाली पदों का ग्रुप बनाकर पदों की गिनती की जाएगी. इसके मुताबिक ही आरक्षण रोस्टर तैयार होगा, जिसकी मंजूरी जिला शिक्षा पदाधिकारी यानी डीईओ देंगे. Also Read - Bihar: BCECE, ITICAT 2016 results declared, Know what's your results | बिहार: BCECE, ITICAT 2016 के परीक्षा परिणाम घोषित, जाने क्या रहा आपका रिज़ल्ट

गेस्ट टीचर की मासिक आमदनी 25 हजार तक होगी
आरक्षण रोस्टर तैयार हो जाने के बाद डीईओ आवेदकों में से चयन सूची तैयार करेंगे. चुने गए अभ्यर्थियों से प्राप्त विकल्पों के आधार पर वे चयनित शिक्षकों की सूची संबंधित स्कूल के हेडमास्टर को देंगे. इसके बाद स्कूल के हेडमास्टर इन गेस्ट टीचर्स की सेवा ले सकेंगे. बिहार सरकार प्लस-टू स्कूलों में रखे जाने वाले गेस्ट टीचर को नियुक्ति पत्र (अप्वायंटमेंट लेटर) नहीं देगी. इसकी जगह गेस्ट टीचर्स को आमंत्रण पत्र (ऑफर लेटर) दिया जाएगा. इस पत्र के मिलने के 7 दिनों के अंदर गेस्ट टीचर्स को स्कूलों में योगदान देना होगा. स्कूल में योगदान करने के बाद आवेदक को यह सहमति देनी होगी कि वह सरकार के 25 जनवरी 2017 को निकाले गए संकल्प पत्र के अधीन काम करेगा. शिक्षा विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार प्लस-टू स्कूलों में रखे जाने वाले गेस्ट टीचरों को प्रतिदिन 1 हजार और अधिकतम 25 हजार रुपए तक पारिश्रमिक दिया जाएगा. Also Read - Bihar Board of Intermediate Arts announced the results; girls performed better again | बिहार बोर्ड: इंटर आर्ट्स का रिजल्ट घोषित, लड़कियों ने फिर मारी बाजी

इन विषयों में है वैकेंसी
अंग्रेजी – 1041
गणित – 791
भौतिकी – 1024
रसायन – 974
जूलॉजी – 137
बॉटनी – 290