पटना: जन अधिकार पार्टी के प्रमुख और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने गुजरात में बिहार के लोगों पर हो रहे हमले को लेकर मंगलवार को कहा कि वह खुद गुजरात जाएंगे और बिहार के लोगों की सुरक्षा करेंगे. उन्होंने चुनौती देते हुए कहा कि देखते हैं कि कौन भगाता और पीटता है.

बिहार के मधेपुरा से सांसद पप्पू ने कहा, “अगर 24 घंटे के अंदर हमला करनेवालों के नेतृत्वकर्ता को गिरफ्तार नहीं किया जाता है और वहां रह रहे बिहार के लोगों को सुरक्षा सुनिश्चित नहीं की जाती है, तो वह गुजरात रवाना होंगे. देखता हूं, वहां से कौन भगाता है.” सांसद ने कहा, “हमला रोकने के बजाय भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कांग्रेस के ऊपर आरोप लगा रही है. अगर कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकुर इस हमले के लिए जिम्मेवार हैं, तो सरकार उन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं कर रही है.”

बिहार के लोगों को दुनिया भर का बोझ अपने कंधे पर उठाने वाला बताते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को ही जलील किया जा रहा है. पप्पू ने कहा, “बिहार के लोगों पर अब हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. मैं अब बिहार की लड़ाई उसी धरती पर जाकर लड़ूंगा, जहां बिहारियों पर हमले हो रहे हैं.”

यूपी-बिहार के लोगों को धमकाने का आरोप, अल्पेश ठाकोर की सफाई, गलत होने पर खुद चला जाऊंगा जेल

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भी उन्होंने खुली चुनौती दी और कहा कि प्रधानमंत्री का उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी अब विरोध होगा. बता दें कि साबरकांठा जिले में 28 सितंबर को 14 महीने की एक बच्ची के साथ कथित रेप की घटना के बाद गुजरात में रह रहे हिन्दी भाषी लोगों पर हमले हो रहे हैं. ये हमले राज्य के मुख्य हिस्से तक पहुंच गए हैं. रविवार रात आनंद स्थित बाल अमूल प्लांट में कॉन्ट्रैक्ट पर काम करने वाले 9 लोगों पर हमले किए गए.

यूपी बिहार के लोगों का गुजरात से पलायन, इंडस्ट्री पर दिखने लगा असर, प्रोडक्शन घटा

प्रवासियों पर हमले के अबतक 56 केस दर्ज किए गए हैं. 431 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. यूपी-बिहार के लोगों पर हमले उन जगहों पर हुए हैं जहां बच्ची से रेप हुआ था या उन जगहों पर जहां ठाकुर समुदाय बहुसंख्यक है. हिम्मतनगर, मेहसांणा, गांधीनगर, अहमदाबाद के अलावा बड़ोदरा, आनंद और पंचमहल्स में प्रवासियों पर हमले हो रहे हैं. जिस बच्ची के साथ रेप की घटना हुई वह ठाकोर समुदाय से थी.