पटना| पटना हाईकोर्ट ने जेडीयू-बीजेपी की गठबंधन सरकार के खिलाफ आरजेडी विधायक सरोज यादव की याचिका खारिज कर दी. ज्ञात हो कि 28 जुलाई को पटना हाईकोर्ट ने बीजेपी के साथ मिलकर नीतीश कुमार की जेडीयू द्वारा नई सरकार के गठन को चुनौती देने वाली दो जनहित याचिकाओं को स्वीकार किया था.Also Read - Video: लालू यादव के बयान पर बोले नीतीश कुमार- 'वह मुझे गोली मरवा सकते हैं और...'

Also Read - RJD Chief Lalu Yadav ने नीतीश कुमार को बताया अहंकारी और लालची, कांग्रेस के बारे में अब कही ऐसी बात

शुक्रवार को संक्षिप्त सुनवाई के बाद पटना हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश राजेन्द्र मेनन और न्यायमूर्ति एके उपाध्याय की खंडपीठ ने मामले को स्थगित कर दिया था. आज अदालत ने आरजेडी विधायक सरोज यादव की याचिका को खारिज कर दिया. Also Read - Bihar Bypolls: बिहार आते ही चुनावी मैदान में कूदे लालू यादव, उपचुनाव के लिए तारापुर और कुशेश्वर अस्थान में करेंगे प्रचार

ज्ञात हो कि  आरजेडी नेता सरोज यादव और अन्य लोगों ने नई सरकार के गठन के खिलाफ पटना हाईकोर्ट में  जनहित याचिकादायर की थी और इस पर मुख्य न्यायमूर्ति राजेन्द्र मेनन की खंडपीठ ने आज इस याचिका पर सुनवाई की.  इन जनहित याचिकाओं में यह कहा गया था कि राज्यपाल ने प्रक्रिया का पालन नहीं किया और सरकार गठन के लिये उन्होंने विधानसभा की सबसे बड़ी पार्टी (आरजेडी)को आमंत्रित नही किया.

पटना हाईकोर्ट का यह फैसला लालू यादव और उनकी पार्टी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. वहीं नीतीश कुमार के लिए यह रहत की खबर है.