भभुआ. बिहार के कैमूर जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र में एक युवती की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने शुक्रवार को जमकर उपद्रव मचाया. इस दौरान उन्होंने थाने में लगे वाहनों को फूंक दिया तथा थाने में तोड़फोड़ की. लोगों के हमले और पथराव में मोहनियां पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) सहित छह पुलिसकर्मी घायल हो गए. क्षेत्र में तनाव का माहौल कायम है. इस घटना के बाद पूरे बाजार में अफरा-तफरी की हालत पैदा हो गई. आक्रोशित लोगों को शांत करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ा. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि गुरुवार को बड़ौदा गांव की एक युवती घायल अवस्था में मोहनियां रेल पटरी से पुलिस को मिली थी, जिसे इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया था. अस्पताल में इलाज के दौरान गुरुवार की रात उसकी मौत हो गई. शव जैसे ही गांव पहुंचा, गांव के लोग आक्रोशित हो गए. Also Read - Delhi: महिला ने दो बच्‍चों की हत्‍या करने के बाद कर ली सुसाइड

ग्रामीण स्थानीय एक युवक पर दुष्कर्म के बाद युवती को रेलवे पटरी पर फेंकने का आरोप लगा रहे हैं. ग्रामीण आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हंगामा करने लगे. ग्रामीण पुलिस पर मामले को दबाने का आरोप लगाया. पुलिस का कहना है कि पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. इसी बीच शुक्रवार को आक्रोशित लोग रामगढ़ थाने का घेराव कर हंगामा करने लगे. लोग इस दौरान थाने में पथराव किया और थाने में लगे चार से पांच वाहनों को फूंक दिया. थाने में भी आग लगाने की कोशिश की गई. थाने में जमकर तोड़फोड़ की गई. Also Read - Honor Killing In Rajasthan: प्रेम प्रसंग के कारण पिता ने अपनी ही बेटी को दी खौफनाक सजा, पहले किया अगवा फिर...

लोगों को शांत करने के लिए पुलिस ने भी बल प्रयोग किया, जिससे क्षेत्र में अफरा-तफरी की हालत पैदा हो गई. ग्रामीणों के अनुसार, पुलिस ने लोगों को हटाने के लिए हवा में गोलियां चलाईं. हालांकि पुलिस अधिकारी इसकी पुष्टि नहीं कर रहे हैं. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मोहनियां के पुलिस उपाधीक्षक रघुनाथ सिंह ने जब घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों को समझाने की कोशिश की तो उन्हें भी भीड़ का कोपभाजन बनना पड़ा. गुस्साए लोगों के पथराव में डीएसपी सहित छह पुलिसकर्मी बुरी तरह घायल हो गए. इस दौरान कई थानों की पुलिस रामगढ़ थाने में बुला ली गई है. Also Read - 24 घंटे में तीन लोगों की हुई हत्या, भाजपा विधायक बोले- यूपी की तरह बिहार में भी पलटनी चाहिए गाड़ी

कैमूर के जिलाधिकारी डॉ. नवल किशोर चौधरी ने कहा कि स्थिति तनावपूर्ण, लेकिन नियंत्रण में है. उन्होंने कहा कि पुलिस ने संयम से काम लिया है. क्षेत्र में अतिरिक्त पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है. लोगों को चिह्नित कर उन पर कार्रवाई की जाएगी.