PM CARES to fund two 500-bed Corona hospitals in Bihar: प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष (पीएम केयर्स फंड) न्यास ने कोरोना महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई के मद्देनजर बिहार के बिहटा और मुजफ्फरपुर में 500 बिस्तरों वाले दो अस्थायी अस्पतालों की स्थापना के लिए धन आवंटित करने का फैसला किया है. Also Read - India Covid-19 Updates: देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 53 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 93 हजार से ज्यादा केस और 1247 लोगों की मौत

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने सोमवार को सिलसिलेवार ट्वीट कर यह जानकारी दी और बताया कि इन अस्पतालों का निर्माण रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) करेगा. Also Read - Schools Colleges Reopening News: इन राज्यों में 21 सितंबर से खुलेंगे स्कूल और यहां रहेंगे बंद, पैरेंट्स की होगी ये जिम्मेदारी

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट में कहा, ‘‘पीएम केयर्स कोष न्यास ने कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई के तहत बिहार के पटना और मुजफ्फरपुर में 500 बिस्तरों वाले कोविड-19 अस्थायी अस्पतालों के निर्माण के लिए धन आवंटित करने का फैसला किया है. इन अस्पतालों का निर्माण डीआरडीओ करेगा. यह बिहार में कोविड से स्थिति में सुधार के लिए एक लंबा रास्ता तय करेगा.’’ Also Read - Coronavirus in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ में नहीं थम रही कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में सामने आए 3842 नए मरीज, 17 की मौत

पीएमओ के मुताबिक पटना के करीब बिहटा में 500 बिस्तरों वाले अस्पताल का आज ही उद्घाटन हो जाएगा जबकि मुजफ्फरपुर में 500 बेड वाले अस्पताल का शुभारंभ जल्द ही किया जाएगा.

पीएमओ ने कहा, ‘‘इन अस्पतालों में 125 बिस्तर आईसीयू सुविधा से लैस होंगे जिनमें वेंटिलेटर की भी व्यवस्था होगी जबकि शेष 375 बिस्तर सामान्य श्रेणी वाले होंगे. इन अस्पतालों में सशस्त्र बलों की चिकित्सा सेवा से डाक्टरों और पराचिकित्सीय कर्मियों की तैनाती की जाएगी.’’

ज्ञात हो कि कोविड-19 महामारी जैसी किसी भी तरह की आपातकालीन या संकट की स्थिति से निपटने के प्राथमिक उद्देश्य के साथ एक समर्पित राष्ट्रीय निधि की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए और उससे प्रभावित लोगों को राहत प्रदान करने के लिए ‘आपात स्थितियों में प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष (पीएम केयर्स फंड)’ के नाम से एक सार्वजनिक परमार्थ ट्रस्ट बनाया गया है.