PM modi in Patna: पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने पटना की चुनावी रैली में नीतीश कुमार की जमकर सराहना की और बिना नाम लिए तेजस्वी यादव पर जमकर निशाना साधा. साध ही पीएम मोदी ने लालू राज की तुलना नीतीश के एनडीए राज की करते हुए सभी योजनाओं के बारे में बताया.Also Read - चिराग पासवान ने 'जहरीली शराब' को लेकर राज्यपाल को लिखी चिट्ठी, बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की

पीएम मोदी ने कहा कि अटल जी कभी कहते थे कि बिहार में बिजली की परिभाषा ये है, कि वो आती कम है और जाती ज्यादा है. लालटेन काल का अंधेरा अब छंट चुका है. बिहार की आकांक्षा अब लगातार बिजली और एलईडी बल्ब की है. पहले अस्पताल में एक डॉक्टर का मिलना दुर्लभ था. अब जगह-जगह मेडिकल कॉलेज और AIIMS जैसी सुविधाएं उपलब्ध हैं. पहले गांव-गांव में मांग थी कि किसी तरह खड़ंजा बिछ जाए, अब हर मौसम में बनी रहने वाली चौड़ी सड़कें दिख रही हैं. Also Read - जानिए क्या है Teleprompter और कैसे करता है काम? जिसे लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कसा तंज

रैली को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि बीते डेढ दशक में बिहार ने नीतीश जी की अगुवाई में कुशासन से सुशासन की तरफ कदम मजबूती से बढ़ाए हैं. एनडीए सरकार के प्रयासों के कारण बिहार ने, असुविधा से सुविधा की ओर, अंधेरे से उजाले की ओर, अविश्वास से विश्वास की ओर, अपहरण उद्योग से अवसरों की ओर का एक लंबा सफर तय किया है. Also Read - Azadi Ka Amrit Mahotsav: ‘आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर’ कार्यक्रम की हुई शुरुआत, पीएम मोदी ने किया संबोधित

पटना से पहले मुजफ्फरपुर रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस बार बिहार का चुनाव बहुत ही असाधारण परिस्थिति में हो रहा है. कोरोना के कारण आज पूरी दुनिया चिंता में है. महामारी के समय में बिहार को स्थिर सरकार बनाए रखने की जरूरत है. विकास को, सुशासन को सर्वोपरि रखने वाली सरकार की जरूरत है.

आप कल्पना कर सकते हैं, एक तरफ महामारी हो और साथ ही जंगलराज वाले राज करने आ जाएं तो ये बिहार के लोगों पर दोहरी मार की तरह हो जाएगा. जंगलराज के युवराज से बिहार की जनता पुराने ट्रैक रिकॉर्ड के आधार पर और क्या अपेक्षा कर सकती है.