PM Narendra Modi on Bihar Election Result 2020: बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मंगलवार को पिछले करीब 15 घंटे से जारी वोटों की गिनती के बाद सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन और विपक्षी महागठबंधन के बीच कांटे की टक्कर बनी हुई है. हालांकि काउंटिंग लगभग खत्म होने की कगार पर है और NDA को फिर एक बार पूर्ण बहुमत मिलता दिखाई दे रहा है.Also Read - Nitish Kumar ने शराब नहीं पीने की शपथ दिलाई, फिर कुछ देर बाद नशे में मिले हेडमास्टर, हुए अरेस्ट

खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में NDA की जीत का दावा किया है. प्रधानमंत्री ने मंगलवार देर रात ट्वीट कर कहा कि बिहार में 15 साल बाद भी NDA के सुशासन को फिर आशीर्वाद मिलना यह दिखाता है कि बिहार के सपने क्या हैं, बिहार की अपेक्षाएं क्या हैं. पीएम मोदी ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए. Also Read - Covid-19 New Variant Omicron: नए वैरिएंट ने मचाई दहशत, पीएम मोदी की अहम बैठक, सतर्कता बरतने का दिया निर्देश

उन्होंने लिखा, “बिहार ने दुनिया को लोकतंत्र का पहला पाठ पढ़ाया है. आज बिहार ने दुनिया को फिर बताया है कि लोकतंत्र को मजबूत कैसे किया जाता है. रिकॉर्ड संख्या में बिहार के गरीब, वंचित और महिलाओं ने वोट भी किया और आज विकास के लिए अपना निर्णायक फैसला भी सुनाया है.” Also Read - Farm Laws Repealed: हरियाणा के सीएम खट्टर ने की पीएम मोदी से मुलाकात, MSP पर कह दी बड़ी बात

पीएम मोदी ने अपने अगले ट्वीट में लिखा, “बिहार के प्रत्येक वोटर ने साफ-साफ बता दिया कि वह आकांक्षी है और उसकी प्राथमिकता सिर्फ और सिर्फ विकास है. बिहार में 15 साल बाद भी NDA के सुशासन को फिर आशीर्वाद मिलना यह दिखाता है कि बिहार के सपने क्या हैं, बिहार की अपेक्षाएं क्या हैं.”

प्रधानमंत्री ने बिहार के युवाओं का धन्यवाद करते हुए लिखा, “बिहार के युवा साथियों ने स्पष्ट कर दिया है कि यह नया दशक बिहार का होगा और आत्मनिर्भर बिहार उसका रोडमैप है. बिहार के युवाओं ने अपने सामर्थ्य और NDA के संकल्प पर भरोसा किया है. इस युवा ऊर्जा से अब NDA को पहले की अपेक्षा और अधिक परिश्रम करने का प्रोत्साहन मिला है.”

पीएम मोदी ने कहा कि बिहार की बहनों-बेटियों ने इस बार रिकॉर्ड संख्या में वोटिंग कर दिखा दिया है कि आत्मनिर्भर बिहार में उनकी भूमिका कितनी बड़ी है. हमें संतोष है कि बीते वर्षों में बिहार की मातृशक्ति को नया आत्मविश्वास देने का NDA को अवसर मिला. यह आत्मविश्वास बिहार को आगे बढ़ाने में हमें शक्ति देगा.

उन्होंने कहा, “बिहार के गांव-गरीब, किसान-श्रमिक, व्यापारी-दुकानदार, हर वर्ग ने NDA के ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ के मूल मंत्र पर भरोसा जताया है. मैं बिहार के हर नागरिक को फिर आश्वस्त करता हूं कि हर व्यक्ति, हर क्षेत्र के संतुलित विकास के लिए हम पूरे समर्पण से निरंतर काम करते रहेंगे.”