पटना: पटना शहर के रामकृष्णानगर थाना अंतर्गत न्यू बाईपास के नजदीक अपराधियों के साथ हुई मुठभेड़ में एक पुलिस जवान शहीद हो गया. जवान मुकेश कुमार सिंह भोजपुर जिले के रहने वाले थे. घटना रामकृष्णा नगर और कंकड़बाग थाने की सीमा पर सोमवार शाम करीब साढ़े छह बजे हुई. मामले में पुलिस ने कार्रवाई में शामिल एसआई अक्षयवर सिंह के बयान पर कंकड़बाग थाने में सात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.

जब बिहार पुलिस के खराब ‘अंग्रेजी ज्ञान’ के चलते मिठाई व्यापारी को लॉकअप में गुजारनी पड़ी रात…..

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने इसे दुखद घटना बताते हुए कहा कि पुलिस टीम पर अपराधियों द्वारा पीछे से गोलीबारी की गयी थी. एक अपराधी को पकड़ लिया गया है. उन्होंने कहा कि इस हमले में शामिल किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा.पटना के लोदीपुर स्थित पुलिस लाईन में आज शहीद सिपाही को गार्ड आफ आनर दिया गया जिसके बाद पार्थिव शरीर को उसके पैतृक गांव भेजा जाएगा. जानकारी के मुताबिक, बाइपास से सटे पटना सेंट्रल स्कूल इलाके में जानीपुर थाने के फरीदपुर निवासी कुख्यात उज्ज्वल गिरोह के एकत्र होने की सूचना पुलिस को मिली थी. इसके बाद स्पेशल सेल की टीम अपराधियों को गिरफ्तार करने मौके पर पहुंची. मुकेश और उसके एक और साथी सिपाही ने उज्जवल और पंडित नाम के उसके गुर्गे को दबोच लिया. तभी उज्ज्वल के दूसरे गुर्गों ने फायरिंग कर दी.

बिहार के सरकारी अस्पताल में सीतामढ़ी जेल की महिला कैदी के साथ गैंगरेप

पुलिस जवान के छाती- पेट में मारी गोली
मुकेश को छाती, पेट और कनपटी में तीन गोली लगी और उनके गिरफ्त से उज्ज्वल फरार हो गया. वहीं पंडित पुलिस की गिरफ्त में है. लेकिन, सात अपराधी भाग निकले. मुकेश को पास के ही एक निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने मामले में कंकड़बाग थाने में उज्ज्वल सहित सात अन्य पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. (इनपुट एजेंसी)