नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बिहार में एक गाड़ी से कुचले जाने से नौ मासूम बच्चों की जान गंवाने की घटना के लिए नशे में धुत एक बीजेपी नेता पर सोमवार को आरोप लगाया और साथ ही राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शराबबंदी अभियान की सच्चाई पर सवाल खड़े किए. राहुल ने ट्वीट किया कि नशामुक्त बिहार में नशे में धुत एक बीजेपी नेता ने 9 मासूम बच्चों को मार दिया! राहुल ने राज्य के मुख्यमंत्री से सवाल किया कि नीतीश जी क्या यही है आपकी शराबबंदी की सच्चाई? उन्होंने नीतीश से पूछा आपकी अंतरात्मा की आवाज आज किसे बचा रही है, आरोपी बीजेपी नेता को या बिहार में शराब की सच्चाई को? Also Read - लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने की भाजपा नेता की हत्या, आईजी ने कहा- यह सुनियोजित हमला है

मुजफ्फरपुर जिले में शनिवार को नौ बच्चों की वाहन से कुचलने के कारण मौत हो गई थी, जबकि 20 अन्य घायल हो गए थे. बिहार में वर्ष 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में जदयू-राजद-कांग्रेस के महागठबंधन को भारी सफलता मिली थी. हालांकि बाद में नीतीश कुमार नीत जदयू ने महागठबंधन से नाता तोड़कर बीजेपी के साथ हाथ मिलाकर सरकार बना ली. Also Read - विकास दुबे की गिरफ्तारी पर कांग्रेस ने खड़े किए सवाल, नरोत्तम मिश्रा से जोड़ा गैंगस्टर का लिंक

गौरतलब है कि बिहार के मुजफ्फरपुर के मीनापुर थाना क्षेत्र में शनिवार को एक बोलेरो से कुचलकर नौ बच्चों की मौत के मामले में पुलिस ने आरोपी बोलेरो मालिक और बीजेपी नेता मनोज बैठा के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. मीनापुर के थाना प्रभारी सोना प्रसाद सिंह ने सोमवार को बताया कि अब तक जांच में यह स्पष्ट हुआ है कि जब यह हादसा हुआ था, तब बोलेरो खुद मनोज बैठा चला रहा था. ग्रामीण मोहम्मद अंसारी और अन्य ग्रामीणों के बयान पर मीनापुर थाने में मनोज बैठा के खिलाफ गैरइरादतन हत्या के आरोप में एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. उन्होंने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है.

बिहार की राजनीति गरमाई
इस हादसे में बीजेपी नेता का नाम आने के बाद बिहार की राजनीति गर्मा गई है. बिहार में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने सरकार पर सवाल उठाते हुए सोमवार को ट्वीट किया और कहा कि नौ मासूम बच्चों को कुचलने वाले हत्यारे बीजेपी नेता को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के सीधे संरक्षण के चलते अभी तक गिरफ्तारी नहीं किया गया है. उन्होंने कहा कि वह राजद विधायकों के साथ राजभवन मार्च कर राज्यपाल से मिलने जा रहा हैं. इधर, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय सोमवार को इस हादसे में शिकार बच्चों से मिलने मुजफ्फरपुर अस्पताल पहुंचे और उनका हालचाल जाना.

इस बीच बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि यह नीतीश कुमार की सरकार है. उन्होंने कहा कि मैंने पुलिस अधीक्षक, मुजफ्फरपुर से इस मामले को लेकर बातचीत की है. आरोपी मनोज बैठा पर कड़ी से कड़ी कारवाई होनी चाहिए. मासूमों की जान लेनेवालों पर कोई रहम नहीं होनी चाहिए.