नई दिल्ली। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड मामले में मंगलवार को आरजेडी नेता शहाबुद्दीन के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया और उन पर आपराधिक साजिश और हत्या का आरोप लगाया गया है. सीबीआई द्वारा मुजफ्फरपुर की विशेष अदालत में दायर यह पूरक आरोपपत्र है. जांच एजेंसी ने पूर्व में दिसंबर 2016 में एक आरोपी के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया था.

केंद्रीय एजेंसी द्वारा जांच अपने हाथ में लिए जाने से पहले बिहार पुलिस ने मामले में छह लोगों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया था. सीबीआई ने मंगलवार को दिल्ली में एक बयान में कहा कि आपराधिक साजिश और हत्या से संबंधित भारतीय दंड संहिताओं की धाराओं और शस्त्र कानून के प्रावधानों के तहत फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद शहाबुद्दीन के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया गया है.

सीवान से चार बार आरजेडी के सांसद रहे शहाबुद्दीन पर एक अग्रणी हिन्दी दैनिक के पत्रकार रंजन की हत्या में शामिल में होने का आरोप है. रंजन की पिछले साल 13 मई को सीवान में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. उनकी पत्नी ने घटना में शहाबुद्दीन के शामिल होने का आरोप लगाया था.

राजदेव हत्याकांड मामले की जांच कर रही सीबीआई ने इसी साल 26 मई को शहाबुद्दीन को आरोपी बनाया था और फिर 29 मई को हिरासत में ले लिया. शहाबुद्दीन 45 से अधिक आपराधिक मामलों में मुकदमे का सामना कर रहे हैं. उन्हें सीवान निवासी चंद्रशेखर प्रसाद की अपील पर आए उच्चतम न्यायालय के आदेश पर तिहाड़ जेल लाया गया था. दो अलग-अलग घटनाओं में प्रसाद के तीन बेटों की हत्या कर दी गई थी.