Bihar Politics: नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी और सरकारी संस्थाओं के निजीकरण के खिलाफ बिहार के लोगों से एकजुट होने की अपील की है. मंगलवार की रात 9 बजे अपने फेसबुक लाइव में तेजस्वी ने अपील की है कि बिहार के लोग बुधवार यानी 9 सितम्बर को 9 बजे रात में 9 मिनट तक के लिए घर के बल्ब-ट्यूबलाइट्स बंद कर दें और एक दीया, लालटेन या मोमबत्ती जलाएं. Also Read - Bihar Election 2020: जेल में बंद बाहुबली आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद ने थामा RJD का दामन

नेता प्रतिपक्ष ने ट्वीट भी किया है जिसमें उन्होंने लिखा है कि बेरोजगार युवा साथियों और स्वयंसेवी संगठनों द्वारा आहूत निजीकरण एवं प्रदेश में व्याप्त भयंकर बेरोजगारी के खिलाफ आज 9 सितम्बर रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की लाइट बंद कर दीप,दिया,मोमबत्तियां और लालटेन जलाने की मुहिम का हम समर्थन करते है. Also Read - School Reopening News: इस राज्य में आज से खोले गए स्कूल, इन नियमों का रखना होगा खास ध्यान...

तेजस्वी ने कहा है कि यह राजद का आंदोलन नहीं है. बेरोजगार युवक और कुछ स्वयंसेवी संस्थाओं ने यह आंदोलन शुरू किया है, उन्होंने कहा है कि वह खुद अपनी मां राबड़ी देवी के साथ तय समय पर अपनी छत पर लालटेन लेकर खड़े रहेंगे. Also Read - तेजस्वी यादव का बयान- बिहार की जनता ने दिया मौका, तो 2 महीने में 10 लाख रोजगार दूंगा

उन्होंने कहा कि अगर राजद को मौका मिला तो किसी भी जाति धर्म का कोई भी काबिल युवक अब बेरोजगार नहीं रहेगा. इसके लिए विशेषज्ञों की टीम रोडमैप बना रही है और जल्द ही हम रोडमैप के साथ युवकों के सामने आयेंगे. उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी ने बेराजगार युवकों के निबंधन के लिए वेबसाइट और टोलफ्री नम्बर जारी कर दिया है.

इससे पहले तेजस्वी ने ट्वीट कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसा है और लिखा है कि झूठ, पलटी और बेशर्मी मापने का कोई पैमाना होता तो वह चूर-चूर हो जाता. औसतन प्रतिदिन 10 लाख लोगों को काम दे रहे है यानि 10 लाख * 30 दिन=3 करोड़, इस तरह से हर महीने में 3 करोड़ लोगों को काम, तो सालाना कितनों को? और आदरणीय नीतीश जी 15 साल से मुख्यमंत्री है. अब आप गणना करते रहिए. शुभ रात्रि.