पटना. लोकसभा चुनाव में अभी भले ही देरी हो, लेकिन पटना की पाटलिपुत्र संसदीय सीट को लेकर दो पार्टियों में नहीं, बल्कि राष्ट्रीय जनता दल (राजद) में ही घमासान मचा है. बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के बेटे तेजप्रताप ने पाटलिपुत्र सीट से अपनी बहन और राज्यसभा सांसद मीसा भारती के चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है. इसके बाद इस सीट को लेकर सरगर्मी बढ़ गई है. राजद सूत्रों के मुताबिक, पाटलिपुत्र सीट पर चुनाव लड़ने के लिए इस बार मनेर से विधायक भाई वीरेंद्र ने तैयारी शुरू कर दी थी. इसी बीच गुरुवार को तेजप्रताप ने सार्वजनिक रूप से पाटलिपुत्र सीट से मीसा भारती के चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी.

लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप ने कहा- ‘यहां कोई सुरक्षित नहीं, मुझे भी डर लगने लगा है’

तेजप्रताप ने भाई वीरेंद्र के विषय में पूछे जाने पर यहां तक कह दिया, “वह मेरा भाई है क्या? उसकी क्या औकात है? पिछले लोकसभा चुनाव में भी मीसा दीदी चुनाव लड़ी थीं और इस चुनाव में भी मीसा दीदी ही चुनाव लड़ेंगी. इसके लिए हमलोग चुनाव प्रचार भी करेंगे.” इसके बाद इस संबंध में जब शुक्रवार को भाई वीरेंद्र से पूछा गया तो उन्होंने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद को ‘गॉडफादर’ बताते हुए इशारों ही इशारों में तेजप्रताप पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, “कौन क्या बोल रहा है, उन्हें इससे कोई लेना-देना नहीं. लालू प्रसाद जो कहेंगे, वहीं होगा.” इधर, तेजस्वी ने भी इस मामले पर ‘डैमेज कंट्रोल’ करते हुए कहा कि राजद में अध्यक्ष ही टिकट तय करते हैं. उन्होंने कहा कि बैठक होगी, उसके बाद ही टिकट तय होंगे. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सभी को बोलने का और अपनी मांग रखने का अधिकार है.

RJD में शामिल होने को लेकर बोले शत्रुघ्न सिन्हा, लोकसभा चुनाव में दिखाएंगे दम

RJD में शामिल होने को लेकर बोले शत्रुघ्न सिन्हा, लोकसभा चुनाव में दिखाएंगे दम

उल्लेखनीय है कि पिछले लोकसभा चुनाव में पाटलिपुत्र संसदीय सीट से राजद के टिकट पर मीसा भारती चुनाव लड़ी थीं, लेकिन उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा था. इधर, तेजप्रताप के बयान को लेकर विरोधी भी राजद पर निशाना साधने लगे हैं. जद (यू) के नेता और प्रवक्ता नीरज कुमार ने ट्वीट किया, “अब तो विधायक की भी अपने परिवार के सामने औकात कुछ नहीं रही. वाह रे सामाजिक न्याय और धर्मनिरपेक्षता की लड़ाई के योद्धाओं. कुछ तो शर्म करो.”