नई दिल्ली: आरजेडी सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव पर कोरोना वायरस का खतरा मंडराने लगा है. ऐसा इसलिए हैं क्योंकि लालू प्रसाद यादव की सुरक्षा में लगे नौ जवान आज कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं. लालू यादव के सुरक्षा कर्मियों के कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रशासन ने तुरंत सभी सुरक्षा कर्मियों को हटाकर दूसरे जवान तैनात करने के आदेश दे दिए हैं. Also Read - पीएम मोदी का दुनिया को भरोसा- भारत की टीका उत्पादन क्षमता पूरी मानवता को इस संकट से बाहर निकालेगी

बता दें कि गुरुवार को लालू प्रसाद यादव के सुरक्षाकर्मियों को कोरोना टेस्ट कराया गया था और शुक्रवार की सुबह उनकी रिपोर्ट में नौ सुरक्षाकर्मियों को पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि हुई. अब दूसरे सुरक्षा कर्मी की तैनाती से पहले उनका कोरोना टेस्ट कराया जाएगा. फिलहाल अभी तक लालू यादव को कोरोना टेस्ट नहीं कराया गया है लेकिन डॉक्टर्स की एक टीम अगले एक हफ्ते तक उन पर निगरानी रखेगी. आपको बता दें कि इस समय लालू यादव इलाज के लिए रांची इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (RIMS) में भर्ती हैं और फिलहाल अभी वह वहीं रहेंगे. Also Read - बिना अनुमति जुलूस निकाला था, तेजस्वी, तेजप्रताप और पप्पू यादव के खिलाफ केस दर्ज

सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लालू यादव को RIMS के डायरेक्टर के बंगले में शिफ्ट कर दिया गया है क्योंकि अस्पताल नें कोरोना संक्रमण का खतरा ज्यादा है. प्रशासन के लिए सबसे बड़ी राहत की बात यह रही कि कोई भी जवान डायरेक्ट लालू यादव के सम्पर्क में नहीं था क्योंकि सभी की ड्यूटी बंगले के बाहर थी. Also Read - हज 2021 को लेकर आवेदन प्रक्रिया जल्द शुरू होगी, सऊदी अरब की गाइडलाइंस का इंतजार

आपको बता दें कि लालू यादव इस समय चारा घोटाला मामले में जेल की सजा काट रहे हैं लेकिन स्वास्थ्य कारणों से उन्हें जारखंड के रिम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है. डॉक्टरों का कहना है कि उनकों किसी भी तरह की सर्दी जुकाम, खांसी या फिर फिवर की समस्या नहीं लेकिन उनके स्वास्थ्य  और बढ़ती उम्र को देखते हुए उन पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है.