पटना: बिहार में राजग में सहयोगी दलों के बीच सबकुछ ठीक नहीं है. शुक्रवार शाम को भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह द्वारा सीट बंटवारे का फॉर्मूला तय होने के थोड़ी देर बाद ही राजग के एक सहयोगी रालोसपा के मुखिया विपक्षी दल राजद के तेजस्‍वी यादव से मिलने पहुंच गए. दोनों नेताओं के बीव अरवल के सर्किट हाउस में बातचीत हुई. हालांकि, बातचीत के ब्‍योरे का अभी खुलासा नहीं किया गया है.

बाद में इसके बारे में पूछे जाने पर कुशवाहा ने कहा कि तेजस्‍वी से मुलाकात केवल एक संयोग थी और वे अब भी एनडीए के साथ हैं. उन्‍होंने यह भी जोड़ा कि वे नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने की कोशिशों में लगे हैं. वहीं, राजग के एक अन्‍य सहयोगी लोजपा के चिराग पासवान ने कहा कि सीटों के बंटवारे पर बातचीत अभी जारी है.

शुक्रवार शाम को अमित शाह ने घोषणा की थी कि बिहार में भाजपा और जदयू बराबर सीटों पर लड़ेंगी. शाह ने कहा कि बिहार में कोई बड़ा या छोटा भाई नहीं है. बीजेपी और जेडीयू साथ लड़ेंगी और पासवान और कुशवाहा भी हमारे साथ रहेंगे. उन्होंने स्पष्ट तौर पर कह दिया कि सभी पार्टियां मिलकर सीटों पर बात करेंगी और कौन किस सीट पर लड़ेगा, इसका ऐलान अगले दो-तीन दिन में कर दिया जाएगा.

बिहार: रामविलास पासवान की लोजपा ने गाड़ा खूंटा, कहा लोकसभा चुनाव में सात सीट से कम पर गठबंधन नहीं

बिहार में लोकसभा की 40 सीटें हैं. साल 2014 के चुनाव में बीजेपी को 22 सीटें मिली थीं. लोजपा को 6 और रालोसपा को 3 सीटें मिली थीं. जेडीयू को 2 सीट हासिल हुई थी, चूंकि उस समय वह एनडीए का हिस्सा नहीं थी. ऐसे में पहले से कयास लग रहे थे कि बीजेपी ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ेगी. लेकिन अमित शाह ने स्पष्ट कर दिया कि राज्य में कोई बड़ा और छोटा भाई नहीं है. बीजेपी और जेडीयू बराबर-बराबर सीटों पर चुनाव लड़ेंगी.

बिहार: सीटों के बंटवारे पर राजग में उलटबांसी, जदयू ने कहा हो गया फैसला, लोजपा-रालोसपा का दावा, कोई बात नहीं हुई

हालांकि, उनके इस बयान से रालोसपा खुश नहीं दिख रही. पार्टी पहले भी बिहार में कानून-व्‍यवस्‍था के नाम पर राज्‍य सरकार की आलोचना करती रही है. कुशवाह ने तो एक बार यह भी कह दिया था कि राजग के कुछ सहयोगी ही नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री नहीं बनने देना चाहते. कुशवाहा कई बार राजद के पाले में जाने का अप्रत्‍यक्ष इशारा भी कर चुके हैं. वे 2014 के मुकाबले ज्‍यादा सीटों की मांग भी कई बार कर चुके हैं, लेकिन सीट बंटवारे के मौजूदा फॉर्मूला में इसकी गुंजाइश कम दिखती है.

बिहार में NDA का सीट फॉर्मूला तय: बराबर सीटों पर लड़ेगी BJP-JDU

राजग की एक और सहयोगी रामविलास पासवान की लोजपा भी ज्‍यादा सीटों पर अड़ी हुई है. तीन दिन पहले ही लोजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष पशुपति कुमार पारस ने कहा था कि उनकी पार्टी को सात से कम सीटें मिली तो वे गठबंधन नहीं करेंगे. लोजपा ने अब तक अमित शाह के बयान पर प्रतिक्रिया नहीं दी है, लेकिन तेजस्‍वी के साथ कुशवाहा की मुलाकात के बात नए राजनीतिक समीकरणों की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता.