पटना: बिहार में कोरोना के बाद चार जनवरी से नौवीं से 12 वीं तक के छात्र-छात्राओं के लिए स्कूल खोलने की तैयारी चल रही है. इस बीच, सरकार ने सभी छात्र-छात्राओं को दो-दो मास्क देने की पहल की है. बिना मास्क लगाए छात्रों को स्कूल नहीं आने का निर्देश भी दिया गया है. शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि चार जनवरी से नौवीं से 12 वीं तक के स्कूल खोले जा रहे है, इसे लेकर राज्य भर के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में कोरोना वायरस महामारी से सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए आवश्यक उपाय किए जा रहे हैं.Also Read - Republic Day 2022: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर अब से थोड़ी देर बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का देश के नाम संबोधन

बिहार शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले कक्षा 9 से 12वीं तक के प्रत्येक छात्र-छात्राओं को महामारी से सुरक्षा उपायों के तौर पर, दो फेस मास्क प्रदान करने का निर्णय लिया है. विभाग द्वारा इसके लिए सभी जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए गए हैं. Also Read - Omicron variant new strain: इंदौर में ओमीक्रोन वैरियंट के नए स्ट्रेन BA.2 के कई मामल मिले, 6 बच्चे भी आए चपेट में

विभाग के मुताबिक फिलहाल सरकारी स्कूलों में इन चार वर्गो में करीब 36.61 लाख से अधिक बच्चे हैं, जिन्हें मास्क उपलब्ध करवाया जाएगा. इस तरह कहा जा रहा है करीब 72 हजार मास्क शिक्षा विभाग द्वारा दिए जाएंगें. विभाग की ओर से जानकारी दी गई कि सभी जिला शिक्षा कार्यालयों (डीईओ) को निर्देश दिया गया है कि वे जीविका समूह से मास्क खरीदें. Also Read - West Bengal: स्कूल-कॉलेजों को खोलने की मांग, कहा- जब शराब की दुकानें खुल सकती हैं तो कोरोना नियमों के साथ शिक्षण संस्थान क्यों नहीं?

शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि सभी सरकारी स्कूलों के नौवीं से 12 वीं तक के प्रत्येक बच्चों को दो-दो मास्क दिए जाएंगें. उन्होंने कहा कि उन सरकारी शिक्षण संस्थानों के भी छात्रों को मास्क दिए जाएंगें जो चार जनवरी से खुाल रहे हैं. स्कूल खुलने के बाद सभी बच्चों को मास्क पहनकर स्कूल आना अनिवार्य कर दिया गया है.