Bihar School Reopening Update: कोरोना काल और लॉकडाउन के दौरान बंद शिक्षण संस्थानों को बिहार सरकार अब चरणवार खोलने की तैयारी (School Kab Khulenge) में है. अगले साल 4 जनवरी से राज्य में 9वीं से 12वीं तक के सभी सरकारी और निजी स्कूलों व विश्वविद्यालय, कॉलेज, मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज के अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए पढ़ाई शुरू करने की पहल की गई है. इसके लिए सरकार ने गुरुवार को शैक्षणिक संस्थानों के लिए कई निर्देश जारी किए हैं. Also Read - School Reopening News: फिर से बंद किये जा रहे सभी स्कूल-कॉलेज? जानें क्या है हकीकत...

शिक्षा विभाग ने सभी विश्वविद्यालय के कुलपति, जिला शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि सभी शिक्षण संस्थानों में किसी भी कीमत में एक दिन में अधिकतम 50 फीसदी क्षमता के साथ ही छात्र और छात्राओं को पढ़ाई की अनुमति होगी. निर्देश में विभाग ने स्पष्ट करते हुए कहा है कि पहले दिन पहले 50 फीसदी छात्र तो दूसरे दिन दूसरे 50 फीसदी छात्र कॉलेज और विश्वविद्यालय आएंगे. इस प्रकाार किसी भी कार्य दिवस में किसी भी कक्षा में कुल क्षमता का 50 फीसदी से अधिक उपस्थिति नहीं होगी. Also Read - स्वास्थ्य कर्मियों को लगने वाले टीके TMC कार्यकर्ताओं ने लगवाए इसी वजह से वैक्सीन की कमी हुई: दिलीप घोष

विभाग ने कहा है कि बाकी वर्गो की पढ़ाई शुरू करने का फैसला 18 जनवरी के बाद लिया जाएगा. शिक्षण संस्थानों में मास्क पहनना, शारीरिक दूरी का पालन करना व सैनिटाइजेशन अनिवार्य कर दिया गया है. गाइडलाइन के मुताबिक, दो छात्रों के बीच कम से कम छह फीट की दूरी के साथ बैठने की व्यवस्था की जाएगी. Also Read - Vaccination Suspended in Maharashtra: महाराष्ट्र में भी रोका गया कोविड-19 वैक्सीनेशन प्रोग्राम, जानें अब वैक्सीन लगेगी या नहीं..?

स्कूल खोलने और बंद होने के समय सभी दरवाजे खुले होंगे, ताकि भीड़ न जमा हो सके. इसके अलावा भी कई तरह के निर्देश जारी किए गए हैं. बता दें कि बिहार में मार्च से ही स्कूल-कॉलेज सहित सभी दूसरे शैक्षणिक संस्थान बंद हैं. 18 दिसंबर को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आपातकालीन प्रबंध समूह की बैठक हुई थी, जिसमें स्कूलों और कॉलेजों को कुछ शर्तो के साथ दोबारा खोलने पर सहमति बनी थी.

(इनपुट: IANS)