पटना: एक्‍टर से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा ने मीडिया में आई, उस खबर को लेकर बीजेपी पर कड़ा प्रहार किया है, जिसमें कथित तौर पर कहा गया है कि इस सप्ताह के अंत में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के पटना में प्रस्तावित रोड शो में “बिहारी बाबू को उनकी औकात” दिखाई जाएगी. सिन्हा ने कहा ”मैंने सुना है कि शाह पटना आ रहे हैं. अतिथि के रूप में उनका वैसे ही स्वागत है जैसे अन्य लोगों का होता है. उन्हें चाय और पकौड़े दिए जाएंगे, जो उन्हें और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बहुत पसंद हैं.”

शुरू में राजीव गांधी भ्रष्ट नहीं थे, लेकिन बाद में बोफोर्स स्‍कैम में शामिल हो गए: J&K गवर्नर

कांग्रेस उम्‍मीदवार सिन्‍हा ने कहा, ” कहा जा रहा है कि वह (शाह) मुझे मेरी औकात दिखाने के लिए यहां आ रहे हैं. इससे लगता है कि भाजपा ने 2015 के विधानसभा चुनावों से कोई सबक नहीं सीखा, जब डीएनए वाली टिप्पणी एनडीए को महंगी पड़ी थी.” सिन्हा ने कहा वे एक बार फिर से एक धरती पुत्र का अपमान कर रहे हैं. इससे बिहार और विशेष रूप से पटना के लोग आहत हुए हैं और वे मतदान के दिन इसका माकूल जवाब देंगे.

यदि महागठबंधन वालों को गलती से मौका मिला तो प्रधानमंत्री कौन होगा: अमित शाह

बीजेवी सूत्रों के अनुसार बिहार की राजधानी पटना के पटना साहिब संसदीय क्षेत्र में आगामी शनिवार को शाह का रोड शो आयोजित किया जा रहा है. यह रोडशो कदमकुआं क्षेत्र से शुरू होगा, जहां सिन्हा का पैतृक आवास स्थित है .वहां से यह रोड शो इलाके की तंग गलियों से होता हुआ ऐतिहासिक गांधी मैदान के निकट समाप्त होगा. कहा जा रहा है कि यह रोड शो शत्रुघ्न सिन्हा को चुनौती देने के लिए किया जा रहा है क्योंकि इसके लिए चुने गए रास्ते की कुछ सड़कों की हालत अच्छी नहीं है. शत्रुघ्न सिन्हा विपक्षी महागठबंधन में शामिल कांग्रेस के उम्मीदवार हैं.

PM मोदी ने चेताया, ‘महामिलावट’ वाली सरकार चाहने वालों से रहें सावधान

बता दें कि बुधवार को पटना में एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के मंत्री नंद किशोर यादव ने शाह के कार्यक्रम की घोषणा की, तो सवाल उठे कि क्या रास्ते के शुरूआती हिस्से का चयन सिन्हा को चिढ़ाने के लिए किया गया है. यादव पटना साहिब से भाजपा विधायक हैं. उन्होंने इस बारे में पूछे गए सवालों को खारिज कर दिया जिसमें कहा गया था कि “कांग्रेस उम्मीदवार के बारे में कौन परवाह करता है”.

मेरे पास लिस्‍ट है, कांग्रेस- विपक्ष ने पीएम मोदी को 56 गालियां दीं: नितिन गडकरी

हालांकि, भाजपा के सूत्रों के हवाले से मीडिया के एक वर्ग में यह बात सामने आई कि मोदी और शाह के नेतृत्व की आलोचना करने वाले सिन्हा को ”उनकी औकात” दिखाने के लिए उक्त रास्ता जानबूझकर शाह के रोडशो के लिए चुना गया है.

सर्जिकल और एयर के बाद अब पाकिस्तान पर होगी ‘वाटर स्ट्राइक’!