नई दिल्ली। कर्नाटक का सियासी घमासान अब देश के दूसरे राज्यों तक पहुंच गया है. चुनाव नतीजों में किसी को भी बहुमत नहीं मिलने के बाद राज्यपाल की ओर से सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिए जाने से बिफरी कांग्रेस ने नई रणनीति के तहत गोवा में राज्यपाल को घेरने का मन बनाया है. कांग्रेस अब राज्यपाल से पूछेंगे कि वहां सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए क्यों नहीं बुलाया गया. कांग्रेस की इसी लाइन पर अब आरजेडी भी बढ़ रही है और राज्यपाल पर सवाल उठा रही है. Also Read - Corona Virus in Bihar: बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 16 हज़ार पार, इन जिलों का बुरा है हाल

कांग्रेस की तर्ज पर आरजेडी ने भी सबसे बड़ी पार्टी को मौका नहीं देने का सवाल उठाना शुरू कर दिया है. आरजेडी नेता और लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने कहा कि कर्नाटक में लोकतंत्र की हत्या के खिलाफ आरजेडी शुक्रवार को एक दिन का धरना देगी. हम बिहार के राज्यपाल से मांग करते हैं कि वह बिहार में सबसे बड़ी पार्टी आरजेडी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करें. Also Read - Video: सुशांत सिंह राजपूत को बिहार के लोगों की श्रद्धांजलि, अब एक्टर के नाम से जाना जाएगा पूर्णिया का यह चौक

तेजस्वी ने कहा, पार्टी ने फैसला लिया है कि हम शुक्रवार को देबहर 1 बजे राज्यपाल से मिलेंगे और उनसे मांग करेंगे कि जिस तरह कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिया गया है, ठीक उसी तरह बिहार में भी मौजूदा सरकार को भंग कर सबसे बड़ी पार्टी आरजेडी को सरकार बनाने के लिए बुलाया जाए.

तेजस्वी ने सवाल उठाया कि बीजेपी बहुमत कैसे साबित करेगी? अमित शाह के पास सिर्फ एक फॉर्मूला है, खरीद-फरोख्त या विधायकों के पीछे सीबीआई और ईडी को लगाया जाए. ये बीजेपी की तानाशाही है. अगर आज हम एक नहीं हुए तो पहले बिहार की बारी आई, कल कर्नाटक में हुआ और कल मध्य प्रदेश या राजस्थान में होगा.

(ANI इनपुट)