सुपौलः बिहार में सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज के कस्तूरबा आवासीय बालिका विद्यालय में घुसकर 35 से ज्यादा लड़कियों के साथ मारपीट करने के आरोप में अब तक एक महिला सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस का दावा है कि अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. सुपौल के पुलिस अधीक्षक मृत्युंजय चौधरी ने सोमवार को बताया, “इस मामले में अब तक छह लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.” उन्होंने कहा कि पुलिस इस मामले की त्वरित सुनवाई की पहल करेगी.Also Read - Bihar: मुजफ्फरपुर में 13 साल की लड़की को किडनैप कर कि‍या गैंगरेप, बेहोश होने तक 5 घंटे तक करते रहे दरिंदगी

Also Read - No Crime In Bihar: नीतीश की नई सरकार ने 85 पुलिसकर्मियों को किया बर्खास्त, 644 पर कड़ी कार्रवाई

इस मामले में राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर सीएम नीतीश कुमार की चुप्पी पर सवाल उठाया है. उल्लेखनीय है कि शनिवार को मनचलों ने स्कूल में घुसकर यहां रहने वाली लड़कियों के साथ मारपीट की थी, जिसमें 35 से ज्यादा लड़कियां घायल हो गई थी. पीड़ित छात्राओं का कहना है कि छात्राएं जब परिसर में खेल रही थी उसी दौरान बाहर से मनचले अभद्र टिप्पणियां करने लगे. लड़कियों ने जब इसकी शिकायत शिक्षकों से की उसके बाद यह मनचले वहां से चले गए लेकिन उसके बाद अपने कई साथियों और गांव के लोगों के साथ लौटे और स्कूल में घुसकर मारपीट की. सभी घायल छात्राओं का इलाज सुपौल के सदर अस्पताल में चल रहा है. सदर अस्पताल के चिकित्सकों ने बताया कि सभी घायल छात्राओं की स्थिति अब बेहतर है. कई छात्राओं को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई और जो भी शेष यहां इलाजरत हैं, उन्हें सोमवार को छुट्टी दे दी जाएगी. Also Read - Bihar Supaul District Vidhan Sabha Election Result 2020 live: सुपौल के पांचों विधानसभा में महागठबंधन 3 सीटों पर तो NDA 2 सीटों पर चल रही है आगे

समाचार चैनलों पर खबर चलने के बाद प्रशासन हरकत में आया. इसको लेकर राज्य में राजनीति भी गर्मा गई है.

(इनपुट आईएएनएस)