Bihar Assembly Election 2020: पटना जिले की मोकामा सीट से राजद ने इस बार बिहार के छोटे सरकार कहे जाने वाले बाहुबली नेता अनंत सिंह को टिकट दिया है. अनंत सिंह इस सीट से पिछले चार बार से विधायक हैं. अनंत सिंह ने साल 2015 में निर्दलीय ही विधानसभा चुनाव लड़ा था. पिछली बार भी नामांकन के वक्त वो जेल में थे और इस बार भी जेल से निकल उन्होंने अपना नामांकन दाखिल किया है. Also Read - क्या फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा कानून के खिलाफ है? जानिए क्या बोले पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त

नामांकन के समय उन्होंने जो एफिडेविट दाखिल किया है, उसके मुताबिक उनकी संपत्ति के साथ-साथ उनपर दायर क्रिमिनल केस भी लगातार बढ़े हैं. बता दें कि जबसे अनंत सिंह विधायक बने हैं तब से उनकी संपत्ति लगातार बढ़ती जा रही है. Also Read - तेजस्वी का नीतीश पर तंज, '9 नवंबर को मेरा जन्मदिन और लालू जी की रिहाई, 10 तारीख को होगी नीतीश जी की विदाई'

साल 2005 में अनंत सिंह ने पहली बार चुनाव लड़ा था और उस समय उनकी संपत्ति 3.40 लाख रुपए थी, जो 2010 में बढ़कर 38.84 लाख रुपए हो गई. फिर 2015 में जो उन्होंने एफिडेविट दाखिल किया उसमें उनकी संपत्ति बढ़कर 27.99 करोड़ रुपए हो गई और 2020 में तो और बढ़कर 68.55 करोड़ रुपए हो गई है. इस तरह से अगर हिसाब लगाया जाए तो 15 साल में अनंत सिंह की संपत्ति 2000 गुना बढ़ी है. Also Read - बिहार में पीएम मोदी की रैली में दिखे कई रंग, सबसे अहम-दो गज की दूरी अभी है जरूरी

इतना ही नहीं, पिछले दो साल से अनंत सिंह और उनकी पत्नी नीलम देवी 1 करोड़ रुपए से ज्यादा का तो सिर्फ इनकम टैक्स ही भर रहे हैं. 2019-20 में अनंत सिंह ने 8.86 लाख रुपए और नीलम देवी ने 1.20 करोड़ रुपए का आईटीआर फाइल किया था, जबकि 2018-19 में अनंत सिंह ने 8.39 लाख रुपए और उनकी पत्नी ने 1.01 करोड़ रुपए का टैक्स चुकाया था.

बता दें कि अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी के पास 2015 में एक भी गाड़ी नहीं थी और अब उनके पास दो एसयूवी कारें हैं, जिनमें से एक 25.33 लाख रुपए की इनोवा क्रिस्टा है और दूसरी 32.52 लाख रुपए की फॉर्च्यूनर सिग्मा है. जबकि, अनंत सिंह के पास अभी भी एक स्कॉर्पियो ही है, जिसकी कीमत 6 लाख रुपए है.