नई दिल्‍ली: बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई और अन्य केंद्रीय एजेंसियों से विस्तृत जांच कराने की मांग लगातार बढ़ती जा रही है. केंद्र की मोदी सरकार के मंत्री व एलजेपी नेता राम विलास पासवान ने आज शुक्रवार को सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई जांच कराए जाने की जरूरत बताते हुए कहा कि सभी राजनीतिक दल इसकी मांग कर रहे हैं. इसे सीबीआई को सौंप देना चाहिए. वहीं, बिहार में सुशांत सिंह के करीबी रिश्‍तेदार विधायक ने महाराष्‍ट्र पुलिस पर अब तक जांच और क‍िसी पर भी FIR दर्ज नहीं करने का बड़ा आरोप लगाया है. Also Read - मुंबई एटीएस की बड़ी कामयाबी, 21.30 करोड़ की यूरेनियम के साथ दो गिरफ्तार

प्रवर्तन निदेशालय ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में प्रवर्तन मामले की सूचना रिपोर्ट (ECIR) दर्ज कर ली है. वहीं, मुंबई में बिहार पुलिस की टीम द्वारा की जा रही जांच को लेकर पटना में बिहार के पुलिस महानिदेशक कार्यालय में उच्च स्तरीय बैठक चल रही है. Also Read - West Bengal CM Mamta Banerjee: तीसरी बार सीएम पद की शपथ लेते हीं गरजीं ममता बनर्जी- हिंसा बर्दाश्त नहीं

बता दें कि एक्‍टर का शव गत 14 जून को मुंबई स्थित उनके अपार्टमेंट में फंदे से लटका मिला था. सुशांत सिंह और रिया चक्रवर्ती के रिश्‍तों और पैसों के लेनदेन के आरोपों को महाराष्‍ट्र के पूर्व मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवींस ने मामले की जांच ईडी से कराने की मांग की है. देवेंद्र फडणवीस  ने कहा, मामले को लगातार CBI को देने की मांग हो रही है, इसलिए मेरी मांग है कि अगर राज्य सरकार CBI को नहीं देना चाहती तो कम से कम इसमें ED को ECIR पंजीकृत करने से तो नहीं रोक सकते, क्योंकि इसमें मनी लॉन्ड्रिंग का मामला सामने आया है. Also Read - UP Gram Panchayat Chunav Results: यूपी पंचायत चुनाव में BJP को करारा झटका, सपा-बसपा के साथ चमके निर्दलीय

 

सुशांत सिंह राजपूत की आत्‍महत्‍या के मामले में केंद्रीय मंत्री रामविलास पासपान ने कहा, दो राज्‍यों के बीच टकराव है और अभी तक महाराष्‍ट्र में कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई है. चिराग ने सीएम ठाकरे से कहा था कि सीबीआई जांच कराई जानी चाहिए. सभी राजनीतिक दल इसकी मांग कर रहे हैं. इस मामले को सीबीआई को सौंप देना चाहिए.

सुशांत सिंह के नजदीकी रिश्‍तेदार व बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह बबलू ने कहा, महाराष्ट्र पुलिस द्वारा अब तक कोई जांच नहीं की गई. अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है या किसी व्यक्ति पर आरोप नहीं लगाया गया है. उन्होंने सिर्फ पूछताछ की है. यह सिर्फ औपचारिकता है. हमें अब उन पर भरोसा नहीं है.

बता दें कि भाजपा के राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई और अन्य केंद्रीय एजेंसियों से विस्तृत जांच कराने की मांग की है. स्वामी ने प्रधानमंत्री को लिखे अपने पत्र में आरोप लगाया है कि एक्‍टर की मृत्यु आत्महत्या नहीं, बल्कि हत्या का मामला है. उन्होंने कहा कि राजपूत के पिता की शिकायत पर बिहार पुलिस द्वारा पटना में एक प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद सीबीआई जांच ”और भी आवश्यक” हो गई है.

सुशांत के परिजनों ने अभी तक सार्वजनिक रूप से इस बात का खुलासा नहीं किया है कि उनका इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपे जाने के बारे में क्या विचार है. उनके अधिवक्ता विकास सिंह ने समाचार चैनलों के साथ बातचीत के दौरान आरोप लगाया कि मुंबई पुलिस जांच को दिशाहीन कर रही है. अधिवक्ता ने दावा किया कि परिवार के सदस्यों ने फरवरी में मुंबई पुलिस के एक शीर्ष अधिकारी को आगाह किया था कि सुशांत को जीवन का खतरा है जिस पर ध्यान नहीं दिया गया था.