मुजफ्फरपुर: बिहार की एक अदालत ने बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में दायर किए गए परिवाद को बुधवार को खारिज कर दिया. मुजफ्फरपुर अदालत के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी मुकेश कुमार ने अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा द्वारा दाखिल परिवाद को खारिज कर दिया. अदालत ने कहा कि यह मामला उनके क्षेत्राधिकार के बाहर का है. Also Read - सुशांत राजपूत की मैनेजर रहीं दिशा सालियान की बॉडी क्या न्यूड अवस्था मिली थी? मुंबई पुलिस ने किया ये खुलासा

उल्लेखनीय है कि ओझा ने सुशांत सिंह की मौत के मामले में बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान, करण जौहर, एकता कपूर समेत 12 फिल्मी हस्तियों पर परिवाद दायर किया था. ओझा ने बताया कि अदालत ने इस मामले को क्षेत्राधिकार से बाहर बताते हुए खारिज किया है. उन्होंने कहा कि वे इस मामले को लेकर वे अब ऊपरी अदालत में जाएंगे. Also Read - सुशांत का पहला TV Shot हो रहा है VIRAL, इस Unseen Video में देखिए एक्टर का हीरोइक अंदाज़ 

ओझा ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में परिवाद दायर कर फिल्म निर्माता करण जौहर, अभिनेता सलमान खान, आदित्य चोपड़ा सहित 12 लोगों के खिलाफ आरोप लगाया था कि साजिश के तहत ये लोग सुशांत की फिल्में रिलीज नहीं होने दे रहे थे और इन्हीं के कारण फिल्म से जुड़े कार्यक्रमों में सुशांत को आमंत्रित नहीं किया जाता था. Also Read - सुशांत मामले में सामने आया संजय राउत का बयान, अभिनेता का अपने परिवार से नहीं था अच्छा संबंध

परिवाद पत्र में कहा गया है कि इन सभी लोगों के कारण सुशांत को आत्महत्या करने के लिए विवश् ा होना पड़ा. बुधवार को इस मामले में सलमान खान के अधिवक्ता साकेत तिवारी और एन.के. अग्रवाल भी मुजफ्फरपुर अदालत में पहुंचकर अपने मुवक्किल का पक्ष रखा.

इससे पहले मामले में सुनवाई के दौरान तीन जुलाई को सलमान खान के अधिवक्ता ने अदालत में हाजिर होकर अपना वकालतनामा पेश किया था. इसके बाद अदालत ने परिवाद पर फैसला सुरक्षित रख लिया था. पटना के रहने वाले अभिनेता सुशांत ने 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी.