पटना: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का परिवार उनका अंतिम संस्कार उनके गृहराज्य में करना चाहता था, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर उनका पार्थिव शरीर बिहार लाना संभव नहीं था. अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई एवं भाजपा विधायक नीरज सिंह बबलू ने सोमवार को पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा ‘हम यहां अंतिम संस्कार करना चाहते थे, लेकिन कोरोना वायरस के मद्देनजर यह संभव नहीं है. इसलिए मुंबई में ही अंतिम संस्कार किया गया.’’ Also Read - B'dy Spl: सुशांत से पहले इस एक्टर के साथ भी जुड़ चुका है रिया चक्रवर्ती का नाम, ऐसी रही है लव लाइफ

बीजेपी विधायक नीरज सिंह बबलू ने सुशांत के बारे में कहा ‘दो—तीन महीने पहले बातचीत हुई थी. लगभग एक साल पहले आया था. पटना, सहरसा और गांव भी ले गए थे. हम लोग कभी सोच भी नहीं सकते थे कि ये दिन देखना पड़ेगा. इतना होनहार और हिम्मत वाला और उसके साथ ऐसी घटना हो जाए . हम लोग इतने मर्माहत हैं कि कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं हैं . राज्य और देश का इतना बडा नुकसान हुआ है कि इसकी भरपायी नहीं हो सकेगी.’’ उन्होंने कहा, ‘‘उसमें हौसले में कोई कमी नहीं थी कि जो इस तरह का कदम उठाए. पर ऐसा हुआ क्यों, यह भी जांच का विषय है. कोई आर्थिक समस्या नहीं थी.’’ Also Read - सुशांत राजपूत सुसाइड केस: सलमान खान, करण जौहर सहित 8 पर केस, बीजेपी नेता ने कराई रिपोर्ट

सुशांत के साथ घटना को एक साजिश बताए जाने के बारे में नीरज ने कहा ‘‘मुंबई को मायानगरी भी कहा जाता है . हमलोग भी इससे पूरी तरह इंकार नहीं करते हैं. वह इतने हौसले वाला लड़का था जो दूसरे को हिम्मत देता था.’’ उन्होंने कहा ‘उसकी आखिरी फिल्म ‘छिछोरे’ अवसाद पर आधारित थी कि कोई अवसाद के कारण आत्महत्या न करे. ऐसे में मुझे नहीं लगता कि वह ऐसा कर सकता था.’’ सुशांत के साथ बिताए किसी महत्वपूर्ण क्षण के बारे में पूछे जाने पर भावुक होकर नीरज ने कहा ‘ बहुत सारे ऐसे क्षण हैं . बचपन में साथ… मेरी शादी में उछलकूद मचाए हुए था.’’ उन्होंने कहा “हम इस साल के अंत में उसकी शादी करने की योजना बना रहे थे.’ Also Read - Sushant Singh Rajput Suicide Case: परिवार की शेखर सुमन और तेजस्वी यादव को नसीहत- आपको पड़ने की जरूरत नहीं.... हम सक्षम हैं

अभिनेता सुशांत पाँच भाई-बहनों में सबसे छोटे हैं. उनकी चार बड़ी बहनों में से एक जो कि अमेरिका में हैं, संभवत: अंतिम संस्कार में शामिल होने में सक्षम नहीं हो पाएंगी.