नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने शनिवार देर शाम अपने छोटे भाई और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की. सूत्रों के मुताबिक, दोनों ने राजनीतिक विषयों पर चर्चा की.तेजप्रताप अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी अदालत में दाखिल करने के बाद से अपने परिजन से कुछ समय से दूर रह रहे थे. तेजस्वी के आवास पर पहुंचकर पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप ने लगभग 45 मिनट तक अपने छोटे भाई से मुलाकात की. इसके बाद पत्रकारों से बातचीत में तेजप्रताप ने कहा कि यह मुलाकात ‘कृष्ण और अर्जुन की मुलाकात’ है. इस मुलाकात से बिहार और देश में उनके जितने भी ‘दुश्मन’ हैं, वे धराशायी हो जाएंगे.

उन्होंने कहा कि लंबे समय से वह अपने छोटे भाई से मिल नहीं सके थे. उन्होंने कहा कि तेजस्वी को उन्होंने नए साल की बधाई दी और आशीर्वाद दिया. दोनों ने राजनीतिक विषयों पर चर्चा की और किसी अन्य विषय पर उनकी बात नहीं हुई. यह पूछे जाने पर कि तेजस्वी से किन राजनीतिक विषयों पर चर्चा हुई, इस पर तेजप्रताप ने कहा कि पार्टी को कैसे मजबूत करना है तथा राजद में अच्छे लोगों को कैसे जोड़ना है इसे लेकर चर्चा हुई .

उन्होंने बताया कि राजद द्वारा आगे चलाए जाने वाले कार्यक्रमों को लेकर तेजस्वी के साथ चर्चा की और अपने पिता और राजद प्रमुख लालू प्रसाद जी का जो निर्देश होगा उसका पालन दोनों भाई करेंगे. तेजस्वी ने इस मुलाकात के दौरान अपने बड़े भाई का पैर छूकर आशीर्वाद लिया. तेजप्रताप ने उनके सिर पर हाथ रख कर आशीर्वाद दिया. तेजप्रताप ने पिछले दिनों अपनी मां राबड़ी देवी से मुलाकात की थी. राबड़ी देवी से तेजप्रताप की मुलाकात के समय तेजस्वी दिल्ली में थे. उल्लेखनीय है कि अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने के लिए पटना की एक अदालत में अर्जी देने के बाद से तेजप्रताप अपने घर नहीं जा रहे थे और अपने परिवार से अलग रह रहे थे.