नई दिल्ली: शादी के महज छह महीने में ही पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी दाखिल कर चुके राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव एक बार फिर चर्चा में हैं. जब से तेज प्रताप ने तलाक की अर्जी दी है वह सार्वजनिक जीवन से गायब हैं. बहुत दिनों से उन्होंने कोई ट्वीट या फेसबुक पोस्ट भी नहीं लिखा था. हालांकि गुरुवार देर रात उन्होंने एक ट्वीट किया. टूटे से फिर ना जुड़े, जुड़े गांठ परि जाए. तेज प्रताप के इस ट्वीट को तलाक के उनके फैसले से पीछे नहीं हटने के रूप में देखा जा रहा है. तलाक की अर्जी पर 29 नवंबर को सुनवाई होनी है. सुनवाई के महज कुछ दिन पहले उन्होंने ट्विटर के जरिए अपनी मंसा जाहिर कर दी है कि वह तलाक के अपने फैसले से पीछे नहीं हटेंगे.Also Read - Cannes 2022: फिल्म फेस्टिवल के तीसरे दिन Aishwarya Rai ने लूटी महफिल, पिंक ड्रेस में रेड कार्पेट पर लगाई आग

Also Read - कान फिल्म फेस्टिवल से सामने आया ऐश्वर्या राय बच्चन का लुक, ब्लैक गाउन और पिंक आउटफिट में लूटी महफिल

तेज प्रताप कह चुके हैं कि ऐश्वर्या के साथ अब और नहीं रह सकते. घुट-घुट कर जीने से कोई फायदा नहीं है. तेज प्रताप ने पटना व्यवहार न्यायालय के परिवार न्यायालय में पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने की अर्जी दी है. ऐश्वर्या राजद के वरिष्ठ नेता चंद्रिका राय की बेटी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा राय की पोती हैं. 12 मई को पटना में दोनों की शादी बड़े धूमधाम से हुई थी. अपनी अर्जी में तेज प्रताप ने आपसी तालमेल की कमी को तलाक की वजह बताया है. अदालत ने अर्जी पर सुनवाई के लिए 29 नवंबर की तारीख निर्धारित की है. Also Read - ऐश्वर्या राय...कैटरीना कैफ के बाद अब श्री देवी की हमशक्ल आई सामने, हैरान लोग बार-बार देख रहे हैं ये वीडियो

बेटे के फैसले से नाराज बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने इस साल छठ पूजा नहीं मनाया. तेज प्रताप चेतावनी दे चुके हैं कि वह तब तक घर नहीं लौटेंगे जब तक उनके माता-पिता उनके फैसले का समर्थन नहीं करेंगे. तेजप्रताप यादव अपने छोटे भाई और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के जन्मदिन पर भी घर नहीं आए थे और न ही दिल्ली में छोटे भाई से मुलाकात की थी. दिवाली पर भी तेज घर नहीं लौटे थे उन्होंने वृंदावन में दिवाली मनाई.