पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय ने यहां रविवार को कहा कि उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री और सास राबड़ी देवी के आधिकारिक आवास से निकाल दिया गया है. ऐश्वर्या ने राबड़ी देवी के आवास 10, सर्कुलर रोड के सामने पहली बार सार्वजनिक तौर पर अपनी चुप्पी तोड़ी. तेज प्रताप ने छह महीने पहले तलाक की अर्जी दायर की है, इसके बावजूद ऐश्वर्या इसी आवास में रह रही थीं.

ऐश्वर्या ने आरोप लगाया कि सास राबड़ी अपनी बेटी मीसा भारती के कहने पर उन्हें तीन महीने से न तो खाना दे रही हैं और न ही परिवार के रसोईघर में प्रवेश करने की अनुमति दे रही हैं. तीन महीने उन्होंने अपने माता-पिता का भेजा हुआ खाना खाकर गुजारे हैं. बहू ने सास और ननद मीसा भारती (राजद की राज्यसभा सदस्य) पर उत्पीड़ित करने व प्रताड़ित करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, “मीसा मेरे साथ अक्सर दुर्व्यवहार करती हैं, परेशान करती हैं और उत्पीड़ित करती हैं. बीती रात (शनिवार) उन्होंने फिर मुझे उत्पीड़ित किया और राबड़ी देवी के सामने धक्के देकर घर से निकाल दिया.

आंखों में आंसू लिए घर से बाहर निकलीं लालू यादव की बहु ऐश्वर्या

तनावपूर्ण संबंध के लिए भी मीसा को जिम्मेदार ठहराया
उन्होंने पति तेज प्रताप के साथ उनके तनावपूर्ण संबंध के लिए भी मीसा को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि मीसा नहीं चाहतीं कि पति के साथ मेरा संबंध सुधरे. ऐश्वर्या और तेज प्रताप का विवाह मई, 2018 में हुआ था. तलाक की अर्जी इस समय अदालत में विचाराधीन है. ऐश्वर्या के पिता पूर्व मंत्री व वरिष्ठ राजद नेता चंद्रिका राय ने कहा कि वह ऐसे परिवार में अपनी बेटी का विवाह कर शर्मिदा हैं. इससे पहले, 14 सितंबर को ऐश्वर्या अपने ससुरालियों के कड़ी सुरक्षा वाले घर से कथित तौर पर रोते हुए निकली थीं. हालांकि, एक घंटा बाद ही वह लौट आई थीं, लेकिन चंद मिनटों बाद ही उन्हें दुपट्टा से आंसू पोंछते हुए, घर से तेजी से निकलते हुए देखा गया था.