पटना: राष्ट्रीय जनता दल के पटना स्थित प्रदेश मुख्यलय पर लगातार दूसरे दिन जनता दरबार लगाने के बाद लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप ने कहा कि उन्हें छोटे भाई तेजस्वी यादव के जनता दरबार में आने से बेहद खुशी होगी. गौरतलब है कि विधायक और पूर्व मंत्री तेज प्रताप ने सोमवार को कहा था कि यदि पार्टी की कमान उन्हें सौंपी गई तो वह पीछे नहीं हटेंगे, लेकिन उनके राजद की कमान संभालने की संभावना को लेकर अन्य नेताओं में खलबली संबंधी सवालों के जवाब नहीं दिए.

चार महीने से ऐश्‍वर्य के साथ नहीं रह रहे तेजप्रताप, पत्‍नी पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि पार्टी में कुछ आरएसएस जैसी सोच वाले लोग हैं लेकिन मुझसे व्यक्तिगत रूप से मिलने के बाद उनके विचार भी बदलेंगे. मुझे नहीं पता है कि वह क्या कह रहे हैं और क्यों कह रहे हैं. चुनाव आ रहे हैं और कई लोग बेकार में टिकट की चिंता करते हुए बोलने लगते हैं. तेज प्रताप ने यह भी कहा कि वह तेजस्वी यादव को बिहार का अगला मुख्यमंत्री बनाने के लिए काम करने को लेकर प्रतिबद्ध हैं.

तेजप्रताप यादव अब लगाएंगे जनता दरबार, ‘नया संगठन’ बनाकर शेयर किया Video

उन्होंने कहा, ‘मैंने सार्वजनिक तौर पर अपनी प्रतिबद्धता बहुत पहले जताई थी. मैंने महाभारत का प्रसंग भी दिया था, मैंने बार-बार कहा भी है कि तेजस्वी अर्जुन हैं और मैं कृष्ण की भूमिका निभाऊंगा. मैं उसका पथ प्रदर्शन करूंगा. ’उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोग भाइयों के बीच दीवार खड़ी करना चाहते हैं. यह पूछने पर कि क्या वह चाहते हैं कि तेजस्वी जनता दरबार में शामिल हों, उन्होंने कहा क्यों नहीं?