पटना: बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की एक बार फिर मांग किए जाने पर उनका उपहास करते हुए मंगलवार को कहा कि इसके लिए उन्हें “संयुक्त राष्ट्र” और जी-8 ” से संपर्क करना चाहिए. तेजस्वी ने मुख्यमंत्री से सवाल किया कि वह किससे बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग कर रहे हैं? राजद नेता ने उनसे कहा है कि वह जनता को ‘बेवकूफ’ बनाना छोड़ दें क्योंकि केंद्र सरकार उनकी मांग को खारिज कर चुकी है. Also Read - कोरोना वायरस के 'इलाज और टीके' के लिए पीएम मोदी ने की फ्रांस के राष्ट्रपति से बात

तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘प्रिय नीतीश चाचा जी, अब आप को बिहार के लिए विशेष दर्जा मांगने के मकसद से संरा और जी-8 से सम्पर्क करना चाहिए. लोगों को बेवकूफ बनाना छोड़ दीजिए. आप किससे मांग रहे हैं.’’ उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा, ‘‘अपने गठबंधन भागीदार भाजपा के सिर पर सवार हो जाइये. प्रधानमंत्री के उन वीडियो को चलाइये जिसमें उन्होंने बिहार के लिए विशेष दर्जे का कई बार वादा किया है.’’ Also Read - Corona के खिलाफ जंग: PM मोदी को होती है हर केस की जानकारी, वार रूम की तरह काम कर रहा PMO

लालू के छोटे बेटे तेजस्वी यादव हुए लापता! बिहार में मचा सियासी बवाल

तेजस्वी ने इसको लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा एक टीवी चैनल को दिए एक साक्षात्कार का वीडियो भी जारी किया है जिसमें उन्होंने बहुत स्पष्ट रूप से विशेष राज्य के दर्जे की मांग को अस्वीकार कर दिया है.

बिहार में सीट शेयरिंग पर बोले नीतीश कुमार, 3-4 हफ्ते में बीजेपी से ऑफर

इस बीच जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने तेजस्वी पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि नीतीश के मुख्यमंत्री रहते हुए राजद को घोटाले का मौका नहीं मिला, इसलिए वे इस तरह की बातें कर रहे हैं. उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने 2015 का बिहार विधानसभा चुनाव महागठबंधन में शामिल राजद और कांग्रेस के साथ मिलकर लड़ा था और भारी सफलता हासिल की थी. किंतु बाद में रेलवे में होटल के बदले भूखंड मामले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद के पुत्र तेजस्वी पर आरोप लगने के बाद गत वर्ष नीतीश ने महागठबंधन में शामिल राजद और कांग्रेस से नाता तोड़कर भाजपा नीत राजग के साथ बिहार में नई सरकार बना ली थी.