पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बुधवार को बिहार सरकार से 18 सवाल पूछकर जवाब मांगा है. तेजस्वी ने सरकार पर युवाओं के प्रति गंभीर नहीं होने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा है कि करोड़ों बेरोजगार युवाओं के भविष्य से जुड़े संबंधित सवालों का जवाब सरकार जरूर देगी. Also Read - Coronavirus: बिहार में लॉकडाउन, गरीबों को राहत पैकेज, हर गरीब परिवार को 1 हजार रुपए मिलेंगे

राजद कार्यालय में बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन में तेजस्वी ने पूछा कि राज्य में आईटी कंपनियां क्यों नहीं आ सकती हैं. आईटी पार्क क्यों नहीं बना? तेजस्वी ने कहा, “मछली का उत्पादन बढ़ाकर हर जिले में मछली बाजार की व्यवस्था क्यों नहीं की जाती? 15 साल में कितने उद्योग लगे और कितने पुराने बंद हुए?” उन्होंने पूछा, “कितने बिहारी बिहार में और कितने बाहर काम कर रहे हैं. कितने लाख-करोड़ लोग शिक्षा और चिकित्सा के नाम पर दूसरे प्रदेशों में गए? छोटे और हस्तकरघा उद्योग के लिए क्या किया गया?” Also Read - बिहार सरकार ने संक्रमण रोकने के लिए उठाया ये बड़ा कदम, सभी जिलाधिकारियों को दिया निर्देश

तेजस्वी ने पूछा, “बिहार में केला, मकई, मखाना, चावल, गन्ना, आलू, लीची, आम, अनाज, फल, सब्जियों का इतना उत्पादन होता है तो फिर इन सभी से संबंधित खाद्य प्रसंस्करण उद्योग क्यों नहीं लगा सकते? 15 वर्ष की सरकार को यह बताना चाहिए.” तेजस्वी ने पूछा कि मछली का उत्पादन बढ़ाकर हर जिले में मछली बाजार की व्यवस्था क्यों नहीं की जाती. उन्होंने पूछा कि बिहार में पर्यटन की असीम संभावनाओं के बावजूद अब तक बिहार को पर्यटन केंद्र के रूप में क्यों नहीं विकसित किया गया? Also Read - लोकसभा में MP ने कहा, MBA डिग्री धारक को रेलवे में खलासी की नौकरी करना पड़ रही है

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी ने युवकों के लिए मिस्ड कॉल नंबर भी जारी किया. उन्होंने एक मोबाइल फोन नंबर जारी करते हुए उस नंबर पर मिस्ड कॉल देकर युवाओं को ‘बेरोजगारी हटाओ’ अभियान से जुड़ने की अपील की.