Bihar Assembly Election 2020: तेजस्वी यादव लगातार सीएम नीतीश पर हमलावर हैं और अब उन्होंने भाजपा पर भी करारा प्रहार किया है और पूछा है कि-पहले आप बताईए, आपके सीएम का चेहरा कौन है, क्योंकि नीतीश कुमार ने तो पहले ही 10 लाख नौकरियों पर हाथ खड़े कर दिया है, ऐसे मे अब भाजपा कैसे 19 लाख नौकरियां देगी? उन्होंने कहा कि भाजपा अब लोगों को धोखा न दे.Also Read - चिराग पासवान ने 'जहरीली शराब' को लेकर राज्यपाल को लिखी चिट्ठी, बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की

तेजस्वी ने आज राजद का मेनिफेस्टो जारी करते हुए कहा कि वो भाजपा की तरह कचड़ा साफ करने और पकौड़ा तलने वाला रोजगार की बात नहीं कर रहे बल्कि सरकारी नौकरी देने की बात कर रहे हैं. अब भाजपा बताए कि वो क्या करेगी, झूठ को कैसे सच में बदलेगी.  तेजस्वी ने कहा कि उनकी सरकार संविदाकर्मियों का मानदेय दोगुना करेगी. Also Read - Bihar Liquor Ban News: कोर्ट की फटकार के बाद शराबबंदी कानून बदलेगी नीतीश सरकार, जानिए क्या होगा बदलाव

Also Read - Bihar Police Fireman 2021 : 2380 पदों के लिये CSBC फायरमैन परीक्षा की तारीख जारी, यहां देखें नोटिस

इससे पहले तेजस्वी ने ट्वीट कर सीएम नीतीश कुमार को सीधी और खुली चुनौती दी. ट्वीट में लिखा कि बिहार में बिनी चढ़ावे के, बिना रिश्वत के कोई काम नहीं होता.अगर मेरी बात गलत है तो जरा एक बार पब्लिक से पूछ लीजिएगा जवाब मिल जाएगा.

बता दें कि तेजस्वी ने शनिवार को अपने पार्टी का घोषणा पत्र भी जारी किया है जिसमें बिहार की जनता से उन्होंने कई बड़े वादे किए हैं. ‘हमारा प्रण’ नाम से जारी राजद के  16 पेज के मेनोफेस्टो में नए स्थायी पदों का सृजन कर के कुल 10 लाख नौकरियों की समय बाद बहाली की प्रक्रिया पहले ही कैबिनेट बैठक में पहली दस्तखत के साथ शुरू होगी.

तेजस्वी यादव ने राजद नेताओं की उपस्थिति में इसे जारी करते हुए कहा कि यह कोई घोषणा पत्र नहीं बल्कि हमारा प्रण है. तेजस्वी ने कहा कि राजद के इस घोषणा पत्र में लालू प्रसाद यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के विचार भी है इसमें समाहित हैं. बता दें कि तेजस्वी यादव ने इस बार अपने निशाने पर बिहार की कानून-व्यवस्था और भ्रष्टाचार को रखा है.