Bihar Assembly Election 2020: तेजस्वी यादव लगातार सीएम नीतीश पर हमलावर हैं और अब उन्होंने भाजपा पर भी करारा प्रहार किया है और पूछा है कि-पहले आप बताईए, आपके सीएम का चेहरा कौन है, क्योंकि नीतीश कुमार ने तो पहले ही 10 लाख नौकरियों पर हाथ खड़े कर दिया है, ऐसे मे अब भाजपा कैसे 19 लाख नौकरियां देगी? उन्होंने कहा कि भाजपा अब लोगों को धोखा न दे. Also Read - Lalu yadav Bail: लालू यादव को बेल या जेल पर बड़ा फैसला आज, RJD को है गुड न्यूज की उम्मीद

तेजस्वी ने आज राजद का मेनिफेस्टो जारी करते हुए कहा कि वो भाजपा की तरह कचड़ा साफ करने और पकौड़ा तलने वाला रोजगार की बात नहीं कर रहे बल्कि सरकारी नौकरी देने की बात कर रहे हैं. अब भाजपा बताए कि वो क्या करेगी, झूठ को कैसे सच में बदलेगी.  तेजस्वी ने कहा कि उनकी सरकार संविदाकर्मियों का मानदेय दोगुना करेगी. Also Read - Bihar Assembly Speaker Election: फिर हारा महागठबंधन, एनडीए की हुई जीत, अध्यक्ष बने विजय सिन्हा

इससे पहले तेजस्वी ने ट्वीट कर सीएम नीतीश कुमार को सीधी और खुली चुनौती दी. ट्वीट में लिखा कि बिहार में बिनी चढ़ावे के, बिना रिश्वत के कोई काम नहीं होता.अगर मेरी बात गलत है तो जरा एक बार पब्लिक से पूछ लीजिएगा जवाब मिल जाएगा.

बता दें कि तेजस्वी ने शनिवार को अपने पार्टी का घोषणा पत्र भी जारी किया है जिसमें बिहार की जनता से उन्होंने कई बड़े वादे किए हैं. ‘हमारा प्रण’ नाम से जारी राजद के  16 पेज के मेनोफेस्टो में नए स्थायी पदों का सृजन कर के कुल 10 लाख नौकरियों की समय बाद बहाली की प्रक्रिया पहले ही कैबिनेट बैठक में पहली दस्तखत के साथ शुरू होगी.

तेजस्वी यादव ने राजद नेताओं की उपस्थिति में इसे जारी करते हुए कहा कि यह कोई घोषणा पत्र नहीं बल्कि हमारा प्रण है. तेजस्वी ने कहा कि राजद के इस घोषणा पत्र में लालू प्रसाद यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के विचार भी है इसमें समाहित हैं. बता दें कि तेजस्वी यादव ने इस बार अपने निशाने पर बिहार की कानून-व्यवस्था और भ्रष्टाचार को रखा है.