पटना: अररिया करी जोकीहाट विधानसभा सीट पर आरजेडी की जीत के बाद बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर हमले तेज कर दिए हैं. तेजस्वी कोई भी मौका नहीं छोड़ रहे हैं. उन्होंने कुछ अलग अंदाज में निशाना साधा और ट्वीट किया. का नीतीश चच्चा जी..! अंतरात्मा अभिओ जागी की ना….कि अभिओ मोदीजी के डर से अंतरात्मा सुतले रही? चुप काहे बाड़ऽ चच्चा..? ई बचवा तऽ सभे चुनऊवे जीतऽता, कहँवा गईल तोहार चमक?? अब समझ मे आ गइल की 2015 में केकरा नाम प वोट मिलल रहे? इ तs ट्रेलर हईं..शुरूआत हईं, फ़िल्म बाक़ी बा..

तेजस्वी यादव ने भोजपूरी में ट्वीट किया. नीतीश चाचा जी, अब अंतरात्मा जागेगी या नहीं? या फिर अब भी मोदी जी के डर से सोती रहेगी? चुप क्यों हैं चाचा? यह लोग तो चुनाव जीत गए, कहां गई आपकी चमक?’ तेजस्वी ने लिखा, ‘अब समझ में आ गया कि 2015 में किसके नाम पर वोट मिले थे? यह तो ट्रेलर है, शुरुआत है.. फिल्म बाकी है.’

गौरतलब है कि जोकीहाट विधानसभा सीट पर राजद प्रत्याशी शाहनवाज आलम ने जदयू प्रत्याशी मुर्शीद आलम को करीब 41 हजार वोटों से पराजित कर दिया. तेजस्वी ने कहा कि लगातार दो उपचुनाव हारने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को नैतिकता के आधार पर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. उन्होंने नीतीश कुमार पर अवसरवादी राजनीति करने और 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन को मिले जनादेश के साथ ‘विश्वासघात’ कर भाजपा के साथ प्रदेश में नई सरकार बना लेने का आरोप लगाया.

राजद नेता ने कहा कि जो लोग कहते थे कि वर्ष 2015 में जनादेश महागठबंधन को नहीं बल्कि नीतीश के चेहरे पर मिला था, तो अब चाचा (नीतीश) के चेहरे का कमाल कहां गुम हो गया| उन्होंने भाजपा पर चोर दरवाजे से नीतीश के जरिए बिहार में सत्ता में आने का आरोप लगाते हुए कहा ‘हमने उस समय भी कहा था कि बहुमत विपक्षी दलों के पास है. कनार्टक से इनकी हार की शुरुआत हो गई है और देश के विभिन्न इलाकों में हुए उपचुनावों की संपन्न मतगणना में भाजपा को मुंह की खानी पड़ी है. यह केवल ट्रेलर है, पूरी पिक्चर अभी आनी बाकी है. 2019 में जनता मुंहतोड़ जवाब देगी.