नई दिल्ली. बिहार में सीएम नीतीश कुमार के महागठबंधन में वापसी पर राजद नेता तेजस्वी यादव और उनके भाई तेजप्रताप यादव के इनकार करने के घटनाक्रम ने आज नाटकीय मोड़ ले लिया. एक दिन पहले भाजपा और उसके आईटी सेल और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर फेसबुक अकाउंट हैक करने का आरोप लगाने वाले तेजप्रताप यादव ने आज अपनी मां और पूर्व सीएम राबड़ी देवी के आवास पर नीतीश कुमार के लिए ‘नो इंट्री’ का पोस्टर लगा दिया. तेजप्रताप ने मीडिया के सामने ‘नो इंट्री नीतीश चाचा’ का पोस्टर प्रदर्शित करते हुए सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी पर आरोप लगाया. तेजप्रताप ने कहा है कि वे अकाउंट हैक होने को लेकर जल्द ही एफआईआर भी दर्ज कराएंगे. बता दें कि इससे पहले तेजप्रताप यादव के छोटे भाई तेजस्वी यादव ने भी नीतीश कुमार के महागठबंधन में वापसी की संभावनाओं को खारिज किया था.

तेजप्रताप के पोस्ट पर जदयू ने कसा तंज, पूछा- का भतीजा सब ठीक है न?

कहा- हमारे बढ़ते प्रभाव से बौखला गए विरोधी
तेजप्रताप यादव ने टि्वटर पर किए गए अपने पोस्ट में लालू परिवार की बढ़ती लोकप्रियता का जिक्र करते हुए नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट किया है, ‘पहले हम दोनों भाई और अब मेरी मम्मी के बारे में गलत लिखा गया है. हमारे बढ़ते प्रभाव से विरोधी बौखलाकर निम्नस्तरीय राजनीति पर उतर आए हैं.’ इससे पहले तेजप्रताप यादव ने परिवार और पार्टी पर आरोप लगाने वाले अपने फेसबुक पोस्ट के बारे में कहा कि भाजपा और आरएसएस ने उनका सोशल मीडिया अकाउंट हैक कर उनके परिवार को तोड़ने के लिए यह कारस्तानी की है. तेजप्रताप ने अपने फेसबुक और ट्विटर अकाउंट सहित अन्य सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट किया है कि कल शाम उनके फेसबुक आइडी को हैक कर लिया लिया गया और एक पोस्ट करके उन्हें और उनके परिवार से तोड़ने का प्रयास किया गया.

सीएम नीतीश कुमार को लिया निशाने पर
तेजप्रताप ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया ‘दोस्तों आज फिर चाचा ने भाजपा के साथ मिलकर हमें तोड़ने की कोशिश की.’ उन्होंने आगे लिखा है, ‘मैं आप सब को बताना चाहता हूं कि मेरा फेसबुक एकाउंट हैक कर लिया गया था, जो फेसबुक की मदद से अब रिकवर हो गया है. भाजपा के लोग लगातार मेरे सोशल मीडिया एकाउंट हैक करने में लगे रहते हैं. आज वे इसमें सफल हो पाए और ऐसा पोस्ट किया जिससे मेरे परिवार, पार्टी में फूट पड़ने का अफवाह फैले और पार्टी कमजोर हो.’ पोस्ट के बारे में उन्होंने कहा, ‘आरएसएस और भाजपा के आईटी सेल द्वारा मेरा अकाउंट हैक कर हमारे परिवार के बारे में दुष्प्रचार किया जा रहा है. पहले भी मेरे पिता का फ़ेसबुक पेज आरएसएस के एक समर्थक द्वारा हैक किया गया था. वह हैकर काफ़ी दिनों जेल में भी रहा था.’

नीतीश पर तेजस्वी की ना, ‘ऐसा कोई सगा नहीं, जिसको हमारे चाचा ने ठगा नहीं’

तेजप्रताप के आरोपों पर जदयू का पलटवार
तेजप्रताप यादव के आरोपों पर जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने पलटवार किया है. संजय सिंह ने ट्वीट कर आज कहा, ‘तेजस्वी यादव जी, एक कहावत तो सुनी होगी आपने… ‘घर का भेदी लंका ढाए.’ अब धीरे-धीरे आपको इस कहावत का चरितार्थ होना दिख रहा होगा.’ उन्होंने आगे लिखा है, ‘तेजस्वी यादव जी, सबकुछ सार्वजनिक होने के बाद आप अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर विरोधियों पर हैकिंग का आरोप लगवा रहे हैं.’ संजय ने कहा है, ‘तेजस्वी जी, अगर है साहस तो पुलिस कम्प्लेन करिए. साइबर अपराध की जांच में बिहार की पुलिस इतनी कुशल है कि वह तुरंत सच मालूम कर लेगी. हैकर कौन है…, किस जगह से अकाउंट हैक हुआ? सभी सवालों का जवाब मिल जाएगा. है साहस तो पुलिस कम्प्लेन करके दिखाइए.’