बिहार शरीफ: बिहार के नालंदा जिले के राजगीर थाना अंतर्गत धर्मपुरा गांव में भूमि विवाद को लेकर एक व्यक्ति और उसके भतीजे की मंगलवार की शाम गोली मारकर कथित तौर पर हत्या कर दी गई. राजगीर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सोमनाथ ने बुधवार को बताया कि मृतकों की पहचान दीक्षा सिंह और उसके भतीजे संजीव सिंह के तौर पर हुई है.

उन्होंने बताया कि पुलिस ने दोनों शव जिला मुख्यालय बिहारशरीफ स्थित सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराने के बाद अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिए. सोमनाथ ने बताया कि धर्मपुरा गांव के निवासी दीक्षा सिंह एवं विजय सिंह के बीच करीब 20 वर्षों से भूमि विवाद चला आ रहा था. इस विवाद को लेकर 1996 में विजय सिंह के तीन भाईयों की हत्या के जुर्म में दीक्षा सिंह उम्र कैद की सज़ा काट लगभग साल भर पहले जेल से रिहा हुआ था. बताया जा रहा है कि उसकी हत्या करने वाले 20 साल से उसके जेल से छूटने का इंतजार कर रहे थे. बीते दिन मौका देख उसके साथ उसके भतीजे की भी हत्या कर दी.

पटना में उपद्रव मचाने वाले बिहार पुलिस के 175 ट्रेनी जवान सस्‍पेंड, इन पर भी गिरी गाज

दीक्षा सिंह और उसके भतीजे की कल शाम गोली मारकर हत्या करने के बाद आरोपी फरार हो गए. बताया जाता है कि हमलावरों की संख्या आठ से दस थी. पुलिस ने वारदात स्थल से दो खोखे बरामद किए हैं. विजय सिंह सहित फरार अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.