आराः भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता विशेश्वर ओझा हत्याकांड के मुख्य गवाह कमल किशोर मिश्रा की बिहार के भोजपुर जिले के करनामेपुर सहायक थाना क्षेत्र में शुक्रवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस घटना में एक शख्स गंभीर रूप से घायल हुआ है. पुलिस के अनुसार, कमल किशोर मिश्रा शुक्रवार सुबह अपने खेत से पशुओं का चारा लेकर घर लौट रहे थे कि तभी सोनवर्षा गांव के पास ब्रह्मस्थान के पास पहले से घात लगाए अपराधियों ने गोलीबारी कर दी. गोली लगने से घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई. Also Read - Chaitra Navratri 2020 8th Day: चैत्र नवरात्रि की अष्टमी आज, लॉकडाउन में ऐसे करें कन्या पूजन, शुभ मुहूर्त

इस गोलीबारी में सोनवर्षा गांव निवासी अमरनाथ मिश्रा भी गोली लगने से जख्मी हो गए हैं. पुलिस सूत्रों के अनुसार, अपराधियों की संख्या पांच से छह बताई जा रही है, जो घटना को अंजाम देने के बाद फरार हो गए. Also Read - Aaj Ka Panchang 1 April 2020: चैत्र नवरात्रि अष्टमी, देखें पंचांग, शुभ-अशुभ समय, राहुकाल

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि घायल अमरनाथ मिश्रा को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना की सूचना के बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंच मामले की छानबीन कर रही है. इस घटना के बाद क्षेत्र में तनाव का माहौल बना हुआ है. उल्लेखनीय है कि 12 फरवरी 2016 को भाजपा के तत्कालीन प्रदेश उपाध्यक्ष विशेश्वर ओझा की सोनवर्षा में ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. Also Read - कोरोना वायरस के 'इलाज और टीके' के लिए पीएम मोदी ने की फ्रांस के राष्ट्रपति से बात

(इनपुट-आईएएनएस)