Bihar News: बिहार के पुलिस महानिदेशक रहे गुप्तेश्वर पांडेय ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है और अब उनके राजनीति में किस्मत आजमाने की खबरें मिल रही हैं. उन्होंने बुधवार को अपने फेसबुक लाइव के दौरान कहा था कि चुनाव लड़ना या राजनीति में आना कोई बुरी बात तो नहीं. उन्होंने कहा कि जनता मुझे बहुत प्यार करती है मैं किसी भी पार्टी से चुनाव लड़ूं जीत जाऊंगा.Also Read - Bihar Mayor Murder News: रात में कटिहार के महापौर की हमलावरों ने गोली मारी, अस्‍पताल पहुंचते ही हुई मौत

फिलहाल उनके चुनाव लड़ने को लेकर कयासबाजी जारी है, लेकिन कहा जा रहा है कि बक्सर से वो जदयू के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं. उससे पहले एक वाकया जो उनसे जुड़ा है वो बड़ा ही मजेदार है. पिछले साल अगस्त महीने में एक दिन के दौरे पर डीजीपी रहे गुप्तेश्वर पांडेय भागलपुर पहुंचे थे.सुबह-सुबह मॉर्निग वाॅक का ड्रेस पहन कर वो अकेले पुलिस लाइन में पहुंच गए. इस दौरान उन्होंने बिना अपना परिचय दिए हथियार लिए दो महिला सिपाहियों से पूछा कि आपलोग इसे चला सकती हैं या सिर्फ दिखाने के लिए हथियार रखती हैं. Also Read - Bihar News: प्रेमिका के घरवालों ने प्रेमी की पीट-पीटकर कर दी हत्या, हफ्ते भर के भीतर दूसरी ऐसी घटना

इसपर पूर्व डीजीपी को अनुराधा नाम की महिला सिपाही ने आम आदमी समझ अदब में ले लिया और कहा कि अभी तो हमलोग 45 राउंड गोली चला कर बांका से लौटे हैं, अभी मैं तो गणतंत्र दिवस परेड के अभ्यास में जा रही हूं. Also Read - Bihar Assembly Session: बिहार विधानसभा में जोरदार हंगामा, सदन में RJD विधायक ने कहा 'बेईमान'

इसके बाद गुप्तेश्वर पांडेय ने बगैर परिचय दिए उनसे पूछा- आपलोगों से ये हथियार चलता है भी या नहीं. यह सुन दोनों ने एकसाथ कहा कि सब चलता है. यह सुनने के बाद डीजीपी ने पूछा कि यदि तुम्हारा हथियार लेकर कोई भाग जाए तो क्या करोगी. इस बात पर दोनों भड़क गईं और कहा कि जरा हथियार लेकर भागकर दिखाइए, तब बताते हैं कि क्या करते हैं. इस बात पर डीजीपी ने कहा कि तुम नहीं पकड़ पाओगी.

इसके बाद महिला सिपाही अनुराधा ने कंधे से एसएलआर उतार डीजीपी को दिखाते हुए कहा कि हथियार लेकर अब भाग कर दिखा ही दीजिए. हथियार लेकर भागिए तो…टन्न से इंसास से ठोक दूंगी. यह कहते ही महिला सिपाहियों ने तुरंत कंधे से इंसास निकाल कर डीजीपी पर तान दिया.

दोनों महिला सिपाहियों के इस आत्मविश्वास को देख डीजीपी ने अपना परिचय दोनों को दिया तथा उनकी सराहना की. सिपाही का आत्मविश्वास देख डीजीपी को भी काफी प्रसन्नता हुई और तब उन्होंने उसे अपनी पहचान बताई. इसके बाद दोनों महिला सिपाहियों ने जय हिंद बोल कर डीजीपी को सलाम किया.