भागलपुर: अगर आपके घर के आस-पास पुलिस की टीम बैंड बाजे के साथ पहुंच जाए तो चौंकिएगा नहीं, बल्कि सचेत रहने की जरूरत है. आप जान लीजिए आपके पास पड़ोस में भी किसी कांड में फरार आरोपी का घर है, जिसे पुलिस तलाश रही है. लोग इसे लेकर डर भी जाते हैं. जी हां, यह पढ़कर आपको भले आश्चर्य हो रहा हो लेकिन यह सच है. बिहार पुलिस इस कोरोना काल में फरार बदमाशों को तलाशने के लिए उसके घर में बैंड बाजा के साथ पहुंच रही है. ऐसा ही एक मामला भागलपुर में देखने को मिली जहां एक फरार आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस ने बैंडबाजे के साथ उसके घर पर दस्तक दी.Also Read - बिहार में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 24 पहुंची, कई पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई

बिहार पुलिस (Bihar Police) ने फरार आरोपिययों को पकड़ने का नायाब तरीका अपनाया है. आत्मसमर्पण कराने के लिए पुलिस अपराधी के घर बैंड बाजा लेकर पहुंचती है और फरार आरोपियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कह रही है. इस दौरान पुलिस फरार आरोपियों की संपत्ति कुर्की के लिए न्यायालय से वारंट भी उसके घर में चिपका रही है. Also Read - Bihar Police Constable Admit Card 2021 Released: CSBC ने जारी किया Bihar Police कांस्टेबल का एडमिट कार्ड, इस Direct Link से करें डाउनलोड

भागलपुर जिले (Bhagalpur Police) के बबरगंज थाना की पुलिस ने विभिन्न कांडों में पिछले कई सालों से फरार चल रहे महेशपुर के मड़वा में सूरज यादव के पुत्र चंदन यादव उर्फ करकु के घर में बैंड बाजे के साथ पहुंचकर इश्तेहार चिपकाया. इसके साथ ही पुलिस ने अपराधियों के परिजनों को जल्द आत्मसमर्पण करवाने की चेतावनी देते हुए कहा कि समय सीमा के अंदर आत्मसमर्पण नहीं करने पर कुर्की की कार्रवाई की जाएगी. Also Read - Bihar Driver PET Exam 2021: इस दिन होगी बिहार पुलिस ड्राइवर भर्ती परीक्षा, यहां पाएं पूरी जानकारी

इसके बाद थाना प्रभारी पवन कुमार बैंड बाजा और अपने पूरे लावलश्कर के साथ सिकंदरपुर के चंडी प्रसाद लेन में टुनटुन प्रसाद उर्फ मुन्ना साह के पुत्र राहुल उर्फ नारियल के घर पहुंचकर दरवाजे पर इश्तेहार चस्पा किया. इस दौरान थाना प्रभारी ने बताया कि समय सीमा के अंदर सभी अपराधियों को आत्मसमर्पण करने का निर्देश दिया गया है, ऐसा नहीं करने पर अदालत के आदेश पर कुर्की की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी.