Bihar News: केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मंगलवार को बताया कि बिहार में वर्ष 2014-15 में इंटरनेट का इस्तेमाल करने वालों की संख्या 80 लाख थी, जो अब बढ़कर तीन करोड़ 93 लाख हो गई है. इसी प्रकार वर्ष 2014-15 में बिहार में चार करोड़ 20 लाख के पास मोबाइल थे, जिसकी संख्या बढ़कर छह करोड़ 21 लाख से अधिक हो गई है. है ना, ये हैरान करने वाली बात. बिहार में मोबाइल और इंटरनेट के यूजर्ज तेजी से बढ़े हैं. Also Read - Unlock-4: बिहार से नेपाल, यूपी और झारखंड के लिए जल्द खुलेंगी बसें, हो रही तैयारी

मंगलवार को रविशंकर प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  द्वारा बिहार के लिए 543 करोड़ की योजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास के मौके पर उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान ये बात बताई. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी की अगुवाई में बिहार का समग्र विकास हो रहा है. हर क्षेत्र में उनका आशीर्वाद बिहार को मिलता है. वहीं बिहार सरकार भी विकास के कार्यों में निरंतर सक्रिय है. Also Read - बिहार में पोस्टर वार: 'एक ऐसा परिवार जो बिहार पर भार' लालू 'सजायाफ्ता कैदी नंबर 3351'

रविशंकर प्रसाद ने पीएम से कहा कि आपका मानना है कि पूर्वी भारत के विकास के बिना देश का विकास नहीं हो सकता है. इसको लेकर आप इन इलाकों में रेलवे समेत सभी क्षेत्रों में आधारभूत संरचना के विकास के लिए दृढ़ संकल्पित हैं. इसी क्रम में आपने बिहार को सवा लाख का पैकेज दिया था, जिससे विभिन्न क्षेत्रों के विकास के लिए काम हुए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि बिहार में 35 हजार कॉमस सर्विस सेंटर हैं और यह कॉमन सर्विस सेंटर कोरोना संक्रमण काल में लोगों तक पैसा पहुंचाने का बहुत बड़ा माध्यम रहे हैं. Also Read - बिहार: विधायक जी ने दी धमकी-अगर हम हारे तो तुम्हारे गांव में अकाल पड़ेगा, Video पर बवाल

केंद्रीय मंत्री ने  कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा पटना के बेऊर और करमलीचक में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का उद्घाटन किया गया है. इससे बेऊर इलाके के 11 वार्डों के दो लाख 80 हजार तथा कर्मलीचक के नौ वार्डों के दो लाख 45 लाख से अधिक लोग लाभान्वित होंगे. खासकर पटना साहिब के सांसद होने के नाते मुझे इससे काफी खुशी हुई है.