नई दिल्ली: वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने शनिवार को कहा कि 2020-21 के बजट में घोषित कई सारे कदमों से निवेश और देश की आर्थिक वृद्धि को बढ़ाने में मदद मिलेगी. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बजट पेश करने के बाद गोयल ने कहा कि बजट व्यापार को बढ़ाने जा रहा है और यह बाजार में फिर से उछाल लाने को सुनिश्चित करेगा.Also Read - बड़ी खबर: केंद्र सरकार एलपीजी गैस सिलेंडर पर 9 करोड़ लाभार्थियों को देगी बड़ी सब्‍सिडी

Union Budget 2020: जानिए बजट से क्या होगा सस्ता, क्या होगा महंगा, पढ़ें हर डिटेल Also Read - बाजार में गिरोहबंदी की चुनौती से निपटना होगा, जिंसों की आपूर्ति में कमी के कारणों का पता लगाने की आवश्यकता: सीतारमण

उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि बजट में कई सारे कदम उठाए गए हैं जिनमें समाज के प्रत्येक तबके को और राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था के हर पहलू को समाहित किया गया है. उन सभी को सामूहिक रूप से एकसाथ रखे जाने से निवेश एवं वृद्धि बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि बजट में सभी क्षेत्रों में प्रस्तावित निवेश लोगों की आय बढ़ाएगा. यह देश के बेहतर भविष्य के लिए देश के सभी तबकों के साथ राजकोषीय विवेक को संतुलित करेगा. मंत्री ने कहा कि उपभोग और निवेश साथ-साथ बढ़ेगा तथा सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि विश्व भारत को एक ईमानदार अर्थव्यवस्था के रूप में देखे. Also Read - एसएंडपी ने भारत का वृद्धि पूर्वानुमान घटाकर 7.3 फीसदी किया, महंगाई बनी चिंता की बड़ी वजह

Union Budget 2020: कमजोर वर्गों के छात्रों के लिए ऑनलाइन डिग्री कोर्स, जल्द आएगी नई शिक्षा नीति

अर्थव्यवस्था को सुस्ती के दौर से निकालने का प्रयास
सीतारमण ने शनिवार को पेश किए गए बजट में व्यक्तिगत आयकर की दरें घटाने, कंपनियों पर लाभांश वितरण कर खत्म करने और कृषि एवं बुनियादी ढांचा के क्षेत्र में रिकार्ड खर्च किए जाने की घोषणा की, ताकि अर्थव्यवस्था को सुस्ती के दौर से निकाला जा सके.